Home » इंडिया » Violent clashes in Galvan Valley were part of the expansionist policy of China
 

चीन की घटिया हरकत का हुआ खुलासा, विस्तारवादी नीति का हिस्सा थी गलवान घाटी में हिंसक झड़प

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2020, 10:33 IST

India China Clash: भारत और चीन की सैनिकों के बीच गलवान घाटी में 15-16 जून की रात हिंसक झड़प हुई थी. इस झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. हिंसक झड़प में भारतीय सैनिकों ने भी 40 से ज्यादा चीनी सैनिकों को हताहत किया था. अब इस झड़प को लेकर चीन की घटिया हरकत सामने आई है.

खुलासा हुआ है कि गलवान घाटी में हिंसक झड़प चीन की गहरी और सोची समझी साजिश का हिस्सा थी. चीनी सैनिकों को इस क्षेत्र में तैनात करने के पीछे चीन की विस्तारवादी नीति है. यह चीन द्वारा दक्षिण एशियाई देशों के इलाके पर दावा करने की एक कोशिश थी. यूएस न्यूज और वर्ल्ड रिपोर्ट को प्राप्त हुए कुछ अहम दस्तावेजों में इसका खुलासा हुआ है.

यूएस न्यूज के राष्ट्रीय सुरक्षा संवाददाता पॉल डी. शिंकमैन ने दस्तावेजों का हवाला देते हुए कई अहम बातें कही हैं. उन्होंने दोनों देशों के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़पों पर भारत सरकार की सोच के बारे में जानकारी देने वाले दस्तावेजों का हवाला दिया. उन्होंने कहा कि भारत इस मुठभेड़ को चीन की साम्राज्यवादी विचारधारा से जोड़कर देखता है.

पी चिदंबरम का बयान- 1.5 किमी अंदर मौजूद चीनी सैनिक, एक इंच जमीन न छूने वाला दावा सिर्फ बयानबाजी

आमतौर पर चीन अपनी विस्तारवादी नीति के तहत प्रत्यक्ष सैन्य कार्रवाई से बचता है. हालांकि वह कई देशों की संप्रभुता तथा अर्थव्यवस्था को भेदने और बर्बाद करने के लिए जोर-जबरदस्ती वाली कूटनीति अपनाता है और इसका समर्थन भी करता है. शिंकमैन ने बताया कि ये खास दस्तावेज, कुछ विश्लेषकों के बयान और शोध पर आधारित हैं.

उन्होंने जानकारी दी कि यह दस्तावेज अमेरिकी आशंकाओं के बीच आया है, जिसमें दक्षिण सागर और हांगकांग समेत अपनी सीमा के अन्य हिस्सों में क्षेत्रीय दावों के खिलाफ चीन कोरोना महामारी से पनपे वैश्विक संकट के बीच इस्तेमाल कर रहा है.

Coronavirus: क्या मच्छरों के काटने से भी फैल सकता है कोरोना वायरस? रिसर्च में ये बात आई सामने

मौसम का बदला मिजाज, झमाझम बारिश से दिल्ली वालों को मिली गर्मी से राहत, इन राज्यों में भी आज होगी भारी बारिश

First published: 19 July 2020, 10:33 IST
 
अगली कहानी