Home » इंडिया » Virali Modi says she sent email to CISF HQ, she also called them up and registered complaint
 

भारत की इस होनहार बेटी के साथ चेकिंग के नाम पर CISF जवान ने की शर्मनाक हरकत !

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2019, 14:10 IST

भारतीय-अमेरिकी विकलांगता अधिकार कार्यकर्ता विराली मोदी ने आरोप लगाया है कि दिल्ली हवाई अड्डे पर सुरक्षाकर्मी ने जांच के नाम पर उनके साथ बदसुलूकी की है. विराली मोदी का आरोप है कि एक महिला जवान ने कहा कि आप विकलांग नहीं हैं और ड्रामा कर रही हैं. महिला जवान ने विराली की जांच करने से ही मना कर दिया.

उन्होंने आरोप लगाया कि महिला सुरक्षाकर्मी की वर्दी पर नेम प्लेट भी नहीं लगी थी. इसके बाद जब उनसे नाम पूछा तो उन्होंने नहीं बताया. पिछले 13 साल से पैरालाइज विराली ने पिछले साल मुंबई एयरपोर्ट पर भी सीआईएसएफ जवानों पर बदसलूकी का आरोप लगाया था.

विराली ने बताया कि सोमवार को वह दिल्ली के टर्मिनल-3 एयरपोर्ट पर पहुंची तो जांच की बात कहकर सीआईएसएफ जवानों ने बदसलूकी की. एक महिला जवान ने बार-बार उनसे खड़े होने को कहा, जबकि विराली ने सुरक्षाकर्मियों को बता दिया था कि वह व्हीलचेयर से उठ नहीं सकती हैं. इस दौरान एक महिला जवान ने ये कहा कि आप ड्रामा कर रही हैं.

विराली ने इसकी शिकायत करते हुए CISF चीफ को ई-मेल भी लिखा. मेल में उन्होंने बताया कि 2006 में रीढ़ की हड्डी में चोट आने के कारण वह खड़ी नहीं हो सकतीं. यह बात उन्होंने सुरक्षा अधिकारी को बताई थी, इसके बाद भी सुरक्षा अधिकारी ने अपने अफसर को बुलाकर कहा कि वह खड़े न हो सकने का ड्रामा कर रही हैं.

इस मेल के बाद CISF प्रमुख ने उनको फोन किया और खेद व्यक्त किया. सीआईएसएफ प्रमुख ने कहा कि जब वह दिल्ली में हों, उनसे मिलें. मोदी ने कहा यह बेशक स्थिति का हल नहीं हो सकता, लेकिन यह विकलांग लोगों के साथ बेहतर व्यवहार करने की दिशा में एक कदम है.

First published: 10 September 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी