Home » इंडिया » virendr sehwag apologize for his tweet after criticise by people on keral lynched
 

सहवाग को अपने एक ट्वीट पर मांगनी पड़ी माफी, ये है मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 February 2018, 10:53 IST

केरल में एक आदिवासी युवक की हत्या पर अपने ट्वीट को लेकर टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने माफी मांगी है. उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट कर सफाई दी और माफी मांगी. वीरेंद्र सहवाग ने शनिवार को ट्वीट कर इस आदिवासी युवक की भीड़ द्वारा हत्‍या किए जाने की निंदा की थी.

 ये भी पढ़ें- आदिवासी युवक को बनाया बंधक, सेल्फी ली और उतार दिया मौत के घाट

बता दें कि मधु नाम का ये युवक गांव के पास के ही जंगल में रहता था. स्थानीय लोगों के मुताबिक वह लोकल शॉप से खाने के लिए सामान चुराया करता था. बताया जा रहा है कि युवक का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था, लेकिन गुरुवार को गांव के लोगों ने उसे पकड लिया और बंधक बनाकर की घंटे उसकी पिटाई. कुछ लोगों ने उस वक्त सेल्फी भी ली थी. शाम के वक्त मौके पर पुलिस पहुंच गई. पुलिस ने उसको पकड़ा तो उसने उल्टी की और बेहोश हो गया. जिसके बाद उसे करीब शाम 5 बजे अस्पताल ले जाया गया. जहां उसकी अप्राकृतिक मौत मौत हो गई.

क्या लिखा था ट्वीट में सहवाग ने

वीरेंद्र सहवाग ने इस मामले में ट्वीट किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था कि यह सभ्‍य समाज के लिए कलंक की तरह है. साथ ही उन्‍होंने ट्वीट पर तीन आरोपियों के नाम भी लिखे जिन्हें उन्होंने मुस्लिम बताया था. इस ट्वीट से ऐसा लगा कि मुसलमानों ने किसी हिन्‍दू युवक की हत्‍या कर दी है.

 ट्वीट पर 8 घंटे में आए थे 3 हजार कमेंट 

करीब 8 घंटे के अंदर सहवाग के ट्वीट पर तीन हजार लोगों ने जवाब दिया. अधिकतर लोगों ने कहा कि आप इस भयावह अपराध के पीछे धर्म क्‍यों देख रहे हैं. कई आरोपियों में से आपने सिर्फ तीन लोगों ने नाम को चुना. पुलिस इस मामले में अभी तक 16 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

 यूजर्स ने किया था सहवाग को ट्रोल

जब यूजर्स ने वीरेंद्र सहवाग को ट्रोल किया तो उन्होंने इस मामले में माफी मांगी. उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, गलती को नहीं मानना दूसरी गलती है. मैं माफी चाहूंगा कि मुझसे और लोगों के नाम अधूरी जानकारी की वजह से छूट गए मैं इसके लिए तहेदिल से माफी मांगता हूं लेकिन मेरा ट्वीट किसी भी तरह से सांप्रदायिक नहीं था. हत्यारे धार्मिक रूप से अलग भले हों लेकिन हिंसक मानसिकता की वजह से वे एक हैं.

First published: 25 February 2018, 10:53 IST
 
अगली कहानी