Home » इंडिया » vrindavan and varanasi widows play holi
 

वृंदावन और वाराणसी में रहने वाली विधवाओं ने खेली होली

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 March 2016, 19:57 IST

वृंदावन और वाराणसी में दशकों से रहने वाली विधवा महिलाओं ने आज होली खेली. विधवा महिलाओं के लिए यह प्रयास सामाजिक संस्था सुलभ इंटरनेशनल की ओर से किया गया. 

वृंदावन के प्राचीन ठाकुर गोपीनाथ मंदिर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में वृंदावन में रहने वाली विधवा महिलाओं के अलावा वाराणसी की विधवाएं भी शामिल हुईं.

इस मामले में सुलभ इंटरनेशनल की ओर से बताया गया कि विधवाओं को होली खेलने से रोकने वाली हिन्दू समाज की कुप्रथा को मिटाने के लिए संस्था की ओर से उठाया गया यह पहला कदम है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सुलभ इंटरनेशनल सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देश पर वृंदावन और वाराणसी में रहने वाली तकरीबन 1500 विधवाओं की देखभाल कर रहा है. यह संस्था विधवाओं को परिवार और समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है.

संस्था के मुताबिक इस कार्यक्रम में 1200 किलोग्राम गुलाल और 1500 किलोग्राम गुलाब व गेंदा के फूलों की पत्तियों का प्रयोग किया गया. संस्था के मुताबिक यह होली इस कुप्रथा से मुक्ति दिलाने में विधवाओं के लिए मददगार बनेगी.

इसके साथ ही यह होली वृंदावन और वाराणसी की विधवाओं के जीवन में तो नया रंग लाई ही, साथ ही वृंदावन में देशी और विदेशी पर्यटकों को लिए भी आकर्षण का केंद्र बनी रही.

First published: 21 March 2016, 19:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी