Home » इंडिया » W. Bengal: One senior citizen died in ATM queue
 

बंगाल: पैसों के लिए एटीएम की लाइन में खड़े बुजुर्ग की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:45 IST
(प्रतीकात्मक तस्वीर )

नोटबंदी के कारण पश्चिम बंगाल में एक बुजुर्ग की मौत होने की खबर है. बंगाल के हुगली जिले में शनिवार को एटीएम की लाइन में लगे एक बुजुर्ग की मौत हो गई.

खबरों के अनुसार बंदेल स्टेशन के पास एक एटीएम काउंटर के सामने कतार में खड़े होने के दौरान राज्य सरकार के कर्मचारी कल्लोल रॉयचौधरी की मौत हो गई.

56 साल के कल्लोल अपनी पदस्थापना की जगह से कोलकाता स्थित अपने घर लौटने के दौरान एटीएम काउंटर से पैसे निकालने गए थे.

जानकारी के मुताबिक कल्लोल उत्तर बंगाल के कूचबिहार में कार्यरत थे. वहां से वह दक्षिण कोलकाता में बेहला स्थित अपने घर जाने वाले थे.

शनिवार की सुबह वह अपने एक सहकर्मी के साथ पहाड़िया एक्सप्रेस से बंदेल स्टेशन पर उतरे और उन्हें कोलकाता आने के लिए एक अन्य ट्रेन पर सवार होना था, लेकिन उन्होंने तय किया कि स्टेशन के पास ही एक एटीएम काउंटर से कुछ पैसे निकाल लिए जाएं.

वह सुबह सात बजकर 35 मिनट पर एटीएम की लाइन में खड़े हुए, 20 मिनट बाद उनकी तबियत बिगड़ गई और वहीं गिर पड़े.

इस मामले में पुलिस ने कहा कि किसी ने कल्लोल की मदद नहीं की और वो लगभग 30 मिनट तक वहीं बेसुध पड़े रहे. घटना के कुछ देर बाद एटीएम के सुरक्षाकर्मी ने एक डॉक्टर को बुलाया, जिसने कल्लोल को मृत घोषित कर दिया.

डॉक्टर ने सुरक्षाकर्मी को उनका शव अस्पताल ले जाने की सलाह दी. कुछ रेहड़ी-पटरी वाले कल्लोल का शव लेकर चिंसुराह इमामबाड़ा अस्पताल गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

इस घटना पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कल्लोल की आकस्मिक मृत्यु को 'दुर्भाग्यपूर्ण' करार दिया और पूछा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह सब देख रहे हैं.इस संदर्भ में सीएम ममता बनर्जी ने कहा, "दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से लोगों की मौत का सिलसिला आज भी जारी है. आज सुबह कल्लोल रॉयचौधरी बंदेल स्टेशन पर एसबीआई एटीएम के सामने बेहोश हो गए और दम तोड़ दिया. शोकाकुल परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. क्या मोदी बाबू सुन रहे हैं?"

गौरतलब है कि कल दक्षिण 24 परगना जिले में भी दो बुजुर्ग लोगों ने पैसे निकालने के लिए कतार में खड़े होने के दौरान दम तोड़ दिया था.

First published: 4 December 2016, 11:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी