Home » इंडिया » water crisis in UP village, youth decide to auction themselves for water
 

शर्मनाक: बूंद-बूंद पानी को तरस रहे हैं यहां के लोग, 26 जनवरी को युवा करेंगे खुद को नीलाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 January 2019, 14:42 IST
(Symbolic Image)

एक तरफ इंडिया डिजिटल हो रहा है तो दूसरी तरफ एक गांव ऐसा भी है जहां पर पीने के पानी की बूंद-बूंद के लिए लोग तरस रहे हैं. उत्तर प्रदेश के एक गांव में लोगों की यही हालत है. यूपी के हाथरस के एक गांव नगला में लोग पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं. इतना ही नहीं हालत इतनी खराब है कि इस गांव के युवा आने वाले गणतंत्र दिवस पर खुद को नीलाम करने वाले हैं ताकि पानी की इस समस्या से निजात पाई जा सके.

इन युवाओं का कहना है कि पानी की कमी को दूर करने के लिए अभी उनके पास यही एक रास्ता है. युवाओं के कहना है कि नीलामी से जो रुपये आएंगे, उससे उनके गांव के हर घर में पीने का पानी उपलब्ध कराया जाएगा. सूत्रों की मानें तो यूपी के हाथरस जिले में कई गांव ऐसे हैं जहां पीने के पानी के लिए लोग तरस रहे हैं. कई घरों में पीने के पानी के लिए कनेक्शन तक नहीं है. लोगों का कहना है कि पीने के पानी के लिए कोई समुचित व्यवस्था न होने के कारण यहां तीन लाख से ज्यादा लोग बुरी तरह से प्रभावित हो रहे हैं.

गांववालों ने बताया कि इस समस्या को लेकर वो कई बार संबंधित अधिकारियों से गुहार लगा चुके हैं लेकिन उनकी परेशानी पर कोई गौैर नहीं किया गया. इतना ही नहीं गांव के लोगों ने इसकी शिकायत राष्ट्रपति तक से की, लेकिन वहां से भी उन्हें कोई राहत नहीं मिली.

 

कहीं से कोई सहायता न मिलने से निराश गांव के कुछ युवकों ने खुद को नीलाम करने की ठान ली है. इस बारे में गांव के युवकों ने युवा जन कल्याण समिति से संपर्क किया. इस नीलामी के लिए गांव के युवकों ने 'सभी खरीदार आमंत्रित हैं' नाम का एक बैनर भी बनवाया है.

युवाओं ने बताया कि आने वाले गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी को वे लोग खुद को नीलाम करने के लिए बैठेंगे. इससे जो भी पैसा इक्कठा होगा उसी से अब गांव में पीने के पानी की व्यवस्था कराई जाएगी. युवकों ने बताया कि नीलामी वाले दिन वे लोग भूख हड़ताल पर भी बैठेंगे.

 

First published: 22 January 2019, 14:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी