Home » इंडिया » West Bengal Congress MLAs Sign Affidavit to Prove Loyalty to The Party
 

पश्चिम बंगाल: कांग्रेस विधायकों ने खाई वफादारी की कसम

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 May 2016, 14:10 IST
(कैच)

उत्तराखंड और अरुणाचल प्रदेश में विधायकों की बगावत झेल चुकी कांग्रेस पार्टी ने पश्चिम बंगाल में अनूठा प्रयोग किया है. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने वाले 44 कांग्रेस विधायकों ने 100 रुपये के स्टांप पेपर पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के प्रति निष्ठा जाहिर की है.

शपथ पत्र में चुनाव में जीत हासिल करने वाले विधायकों ने यह सुनिश्चत किया है कि वे 'किसी भी प्रकार की पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल' नहीं होंगे.

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि शपथ पत्र पर हस्ताक्षर करने का फैसला राज्य पदाधिकारियों, विधायकों और जिलाध्यक्षों की बैठक में सामूहिक तौर पर लिया गया. 

पढ़ें: बंगाल में बीजेपी की सीट बढ़ी, मत घटे

2011 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को राज्य में 42 सीटें मिली थी. कांग्रेस ने तृणमूल कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. पिछले पांच साल में कांग्रेस के 11 विधायक कांग्रेस छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए थे.

शपथ पत्र के बारे में अधीर रंजन चौधरी कहते हैं, "सभी विधायकों ने पार्टी के प्रति वफादारी दिखाने के लिए अपनी मर्जी से हस्ताक्षर किए हैं. जहां तक उनकी चिंताओं की बात है, तो उसके बारे में हमेशा पार्टी के भीतर एक पर्याप्त गुंजाइश होगी, क्योंकि असहमति किसी की भी हो सकती है."

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक दो पन्नों वाले स्टांप पेपर के पहले बिंदु में लिखा गया है, "मैं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से संचालित होने वाली भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रति बिना किसी शर्त के अपनी निष्ठा व्यक्त करता हूं."

दूसरे बिंदु में कहा गया है, "विधानसभा का सदस्य होने के नाते मैं पार्टी के खिलाफ हो रही किसी भी अनैतिक गतिविधि में शामिल नहीं रहूंगा."

ज्यादतर कांग्रेस विधायकों का कहना है कि शपथ पत्र में कुछ भी गलत नहीं है. विधायक अब्दुल मन्नान ने कहा, "ऐसा देखा गया है कि कांग्रेस पार्टी के चुनाव चिन्ह पर जीतकर विधानसभा जाने वाले विधायक दूसरी पार्टियों में चले जाते हैं. इसमें उनका लालच होता है. शपथ पत्र का कदम बिल्कुल सही है."

First published: 25 May 2016, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी