Home » इंडिया » West Bengal: Fifth phase polling of Assembly elections continues in 53 constituencies
 

पश्चिम बंगाल: पांचवें चरण में भी बंपर वोटिंग, 78 फीसदी मतदान

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 April 2016, 20:56 IST

पश्चिम बंगाल में कड़ी सुरक्षा के बीच विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण का मतदान संपन्न हो गया. पिछले चार चरणों की तरह इस चरण में भी बंपर वोटिंग हुई है. .

पांचवें चरण में 78.25 फीसदी मतदान दर्ज हुआ है. दोपहर एक बजे तक 54.75 फीसदी मतदान हो चुका था. वहीं वोटिंग के पहले चार घंटों में 38.15 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था. 

ये चरण काफी अहम है, क्योंकि इसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कथित रूप से नारद पोर्टल के स्टिंग में दिखे टीएमसी के उम्मीदवारों समेत कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर है. 

इस बीच हुगली के आरामबाग इलाके में तृणमूल कांग्रेस और सीपीएम के कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प हो गई. जिसमें सीपीएम का एक कार्यकर्ता जख्मी हुआ है.

53 सीटों पर वोटिंग


पांचवें चरण में दक्षिण 24 परगना, कोलकाता दक्षिण और हुगली जिले की 53 सीटों पर मतदान हुआ. इस चरण में 43 महिलाओं सहित कुल 349 उम्मीवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है. 

पढ़ें:पश्चिम बंगाल: चौथे चरण में भी बंपर वोटिंग, करीब 78 फीसदी मतदान

14,500 से ज्यादा बूथों पर हुए पांचवें चरण के चुनाव में कुल मतदाताओं की संख्या 1.2 करोड़ है. चुनाव आयोग ने हिंसा पर रोक लगाने के लिए केंद्रीय और राज्य पुलिस बलों के 90,000 कर्मी तैनात किए.

वहीं चुनाव आयोग के आदेश के बाद सभी निर्वाचन क्षेत्रों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है.

ममता बनर्जी की सीट पर मतदान


इस चरण के चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की किस्मत भी ईवीएम में कैद हो गई है. वो दक्षिण कोलकाता की भवानीपुर सीट से चुनाव लड़ रही हैं. 

पढ़ें:क्या बंगाल में बह रही है बदलाव की बयार?

उनके खिलाफ पूर्व केंद्रीय मंत्री दीपा दासमुंशी (कांग्रेस) और नेताजी सुभाष चंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्र कुमार बोस (बीजेपी) चुनाव मैदान में हैं. 

bengal2

नारद स्टिंग में दिखे मंत्री भी मैदान में


वहीं इस चरण में तीन और राजनीतिक दिग्गजों की किस्मत का भी दांव पर है, जो कथित रूप से नारद स्टिंग ऑपरेशन में एक फर्जी कंपनी से पैसे लेते दिखाए गए थे. इनमें पंचायती राज मंत्री सुब्रत मुखर्जी, कोलकाता के मेयर सोवन चटर्जी और शहरी विकास मंत्री फरहाद हकीम शामिल हैं.

पढ़ें:टीएमसी नेताओं के स्टिंग ने संसद में मचाया बवाल, लेफ्ट और टीएमसी आमने-सामने

पांचवें चरण के चुनाव में दूसरे बड़े नेताओं में शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी, आवास एवं युवा मामलों के मंत्री अरूप विश्वास, ऊर्जा मंत्री मनीष गुप्ता और अग्निशमन एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जावेद अहमद खान शमिल हैं.

इस चरण के स्टार उम्मीदवारों में बंगाली गायक इंद्रनील सेन और भारतीय फुटबॉल टीम के खिलाड़ी सैयद रहीम नबी भी शामिल हैं. रायदिघी में सीपीएम के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मंत्री कांति गांगुली तृणमूल कांग्रेस की निवर्तमान विधायक और अभिनेत्री देवश्री रॉय के खिलाफ खड़े हैं.

रूपा गांगुली के खिलाफ टिप्पणी कर विवादों में आए तृणमूल कांग्रेस के अब्दुर रज्जाक मुल्ला दक्षिण 24 परगना जिले की भांगर सीट से मैदान में हैं. चुनाव आयोग के निर्देशों के बाद उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई थी.
First published: 30 April 2016, 20:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी