Home » इंडिया » When red fort was played on wrong national anthem and the President had complained to the Prime Minister
 

लाल किले पर गलत राष्ट्रगान बजने की शिकायत लेकर PM के पास पहुंचे राष्ट्रपति और फिर..

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2018, 14:09 IST
(File Photo )

लालकिले पर आपने कई बार राष्ट्रगान की धुन सुनी होगी, लेकिन एक बार लाल किले पर गलत राष्ट्रगान बजाए जाने को लेकर राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री से शिकायत की थी. हालांकि ये राष्ट्रपति भारत के नहीं बल्कि इजिप्ट के थे. जो भारत दौरे पर आए थे. उन्होंने इजिप्ट के राष्ट्रगान को लेकर ही तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से शिकायत की थी. यह घटना साल 1968 की है.  राजनेता और ख्यात ब्यूरोक्रेट के. नटवर सिंह ने अपनी आत्मकथा 'वन लाइफ इज नॉट एनफ' में इस घटना का जिक्र किया है.

दरअसल, इस घटना की कहानी साल 1967 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के पोलैंड, बुल्गारिया, रोमानिया और यूगोस्लाविया जैसे पूर्वी यूरोपीय देशों के दौरे के दौरान लिखी गई थी. इस दौरे के खत्म होने के अचानक इंदिरा गांधी ने इजिप्ट जाने का मन बना लिया. इंदिरा गांधी इजिप्ट की राजधानी कायरो में दो दिन तक रुकीं.

इस दौरान उनकी इजिप्ट के राष्ट्रपति से गमाल अब्देल नासेर से कई मुद्दों को लेकर बातचीत हुई. इंदिरा गांधी ने राष्ट्रपति नासेर को भारत आने का न्योता दिया. आपको बता दें कि ये वो दौर था जब इजिप्ट को इजरायल के साथ लड़ाई में करीबन मुंह की खानी पड़ी थी. वहीं अब्देल नासेर इंदिरा के पिता जवाहर लाल नेहरू के करीबियों में से एक थे. जो उस दौर में भारत के साथ मजबूती से खड़े थे.

साल 1968 में गमाल अब्देल नासेर भारत दौरे पर आए. भारत सरकार ने उनके स्वागत में किसी तरह की कमी नहीं छोड़ी थी. उनके स्वागत के लिए लाल किले में भव्य रिसेप्शन का आयोजन किया गया. उस महफिल में तमाम दिग्गज नेता और अधिकारी शामिल थे. इस कार्यक्रम की शुरुआत इजिप्ट के राष्ट्रगान से होनी थी, लेकिन उस दिन जो राष्ट्रगान बजा वह गलत और पुराना था.

'कार्यक्रम समाप्त होने के बाद खुद राष्ट्रपति नासेर ने इंदिरा गांधी से इसकी शिकायत की. बता दें कि जो राष्ट्रगान बजाया गया था वो 1952 की क्रांति के दौरान अपदस्थ कर दिए गए इजिप्ट के राजा फारूक़ के समय का था. उस क्रांति की अगुवाई ख़ुद नासेर ने की थी. बाद में नासेर इजिप्ट के साथ ही अरब देशों में भी एक मजबूत नेता तौर पर उभरे.

ये भी पढ़ें-  जानिए इंदिरा गांधी ने क्यों लगाई इमरजेंसी

First published: 2 September 2018, 14:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी