Home » इंडिया » When truth is bitter, people spit it out, Manohar Parrikar on Congress walkout from Lok Sabha
 

मनोहर पर्रिकर: कांग्रेस को पता मैली गंगा किधर जा रही है

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2016, 18:11 IST

लोकसभा में आज अगस्ता वेस्टलैंड को लेकर चर्चा के दौरान रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बयान दिया. पर्रिकर ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि गौतम खेतान और त्यागी ने बहती गंगा में हाथ धोए, कांग्रेस को अच्छी तरह पता है कि ये किस ओर जा रही है. 

पर्रिकर ने लोकसभा से कांग्रेस के वॉक आउट पर निशाना साधते हुए कहा कि जब सच कड़वा होता है, तो लोग इसे थूक देते हैं.  

parrikar

'दस्तावेज जलाने की साजिश'


इस दौरान रक्षा मंत्री पर्रिकर ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड से जुड़े दस्तावेजों को 3 जुलाई 2014 को जलाने की सजिश की गई थी. उन्होंने कहा इसके लिए एयरपोर्ट ऑफिस में रहस्यमय तरीके से आग लगाई गई थी.

पर्रिकर ने इसकी सीबीआई जांच करवाने की बात भी कही. उन्होंने कहा कि जिस अधिकारी के पास ये दस्तावेज थे उन्होंने ये लोहे की दराज में बंद किये थे जिस कारण वो बच गए, बाकी फाइलें नष्ट हो चुकी हैं.

पर्रिकर ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड की मैली गंगा किस तरफ जा रही है यह कांग्रेस को अच्छी तरह पता है, इसलिए उसे परेशानी हो रही है.

पर्रिकर ने कहा कि मराठी में कहावत है कि जो अरबी की सब्जी खाता है उसके गले में ही खुजली होती है. टेंडर डॉक्यूमेंट में लिखा गया था कि ट्रायल देश में होना चाहिए, लेकिन देश के बाहर हेलीकॉप्टर का ट्रायल किया गया.

जांच में ढिलाई पर सवाल


अगस्ता वेस्टलैंड को दो रियायत दी गई और उनको सिंगल वेंडर बना दिया गया. पर्रिकर ने कहा कि 12 मार्च 2013 को सीबीआई ने केस दर्ज किया, लेकिन दिसंबर तक ईडी को इसकी कॉपी नहीं दी गई.

3 जुलाई 2014 को ईडी ने मनी लॉड्रिंग एक्ट के तहत केस दर्ज किया. अब तक 11 करोड़ अटैच किया गया है. आईडीएस कंपनी के गौतम खैतान से पूछताछ चल रही है.

साथ ही मिशेल क्रिश्चियन की प्रॉपर्टी अटैच की गई है. उन्हें रेड कॉर्नर नोटिस दिया गया है. इंटरपोल को भी खत भेजा गया है.

First published: 6 May 2016, 18:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी