Home » इंडिया » Who will be next CM of Goa after Parrikar? These names are discussed
 

मनोहर पर्रिकर के बाद गोवा को अब कौन संभालेगा ? इन नामों की है चर्चा

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2019, 10:57 IST

रविवार को देर शाम 36 सदस्यीय गोवा विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करते हुए कांग्रेस ने औपचारिक रूप से राज्यपाल मृदुला सिन्हा के साथ राज्य में सरकार बनाने के लिए अपना दावा ठोंक दिया. राज्यपाल को एक पत्र में विपक्ष के नेता और वरिष्ठ कांग्रेस नेता चंद्रकांत कावलेकर ने कहा कि गठबंधन सहयोगियों ने 2017 में भाजपा के साथ एक लिखित शर्त के साथ गठबंधन किया था कि यह भाजपा की अगुवाई वाली सरकार का समर्थन तभी करेगी जब पर्रिकर गठबंधन का नेतृत्व करेंगे. अबपर्रिकर की मृत्यु के मद्देनजर भाजपा के पास कोई सहयोगी नहीं है.

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद गोवा में अब बीजेपी के सामने सबसे बड़ी चुनौती सरकार बचाने की है. इसको लेकर भाजपा नेताओं और सहयोगियों के बीच गतिरोध जारी है. आज सुबह केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गोवा पहुंचे और प्रत्येक सहयोगी और भाजपा विधायक के साथ बातचीत की शुरुआत की. सभी विधायक इस बात पर जोर देते रहे कि वे विधानसभा को भंग करने के लिए राज्यपाल से कहने का विकल्प अभी खुला नहीं है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने प्रेस को बताया कि महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के नेता सुदीन धावलिकर ने गोवा के अगले मुख्यमंत्री बनने की इच्छा व्यक्त की थी. उन्होंने कहा कि उन्होंने भाजपा को समर्थन देकर कई बार बलिदान दिया है इसलिए वह मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं, लेकिन भाजपा इसके लिए राजी नहीं होगी.

बीजेपी की तरफ से विधायक दो उम्मीदवारों के नाम को आगे कर सकते हैं, जिनमे स्पीकर प्रमोद सावंत और स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे का नाम शामिल है. सावंत को कैडर से जाना जाता है और उनकी पहचान ऐसे व्यक्ति के रूप में है जिनके पास मुख्यमंत्री बनने के लिए पर्याप्त अनुभव है.

 

सीएम मनोहर पर्रिकर लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे थे, लेकिन कुछ दिन पहले ही उनकी परेशानी काफी बढ़ गई थी, जिसके बाद उन्हें गोवा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. लेकिन उनकी हालत लगातार गिरती गई और रविवार शाम उनका निधन हो गया. 63 साल के मनोहर पर्रिकर को भारत ही नहीं दुनिया सादगी वाले नेता के रूप में जानता है.

पर्रिकर ही थे जिन्होंने उस बैठक में मोदी को PM उम्मीदवार बनाने में निभाई थी अहम भूमिका

पर्रिकर इतने सादगी वाले नेता थे कि विधानसभा जाने के लिए खुद अपने स्कूटर का इस्तेमाल करते थे. यही नहीं कुछ दिनों पहले भी वह बीमारी की हालत में विधानसभा के सत्र में शामिल हुए थे. पर्रिकर के निधन पर राजनीति, सिनेमा, खेल और कला जगत से जुड़ी हस्तियों ने गहरा दुख जताया है. देश के रक्षा मंत्री रहते हुए भी मनोहर पर्रिकर के अहम योगदान निभाया.

First published: 18 March 2019, 10:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी