Home » इंडिया » why us is soft on India Signs S-400 Missile System Deal with russia, its big reason
 

भारत-रूस के बीच S-400 डील पर अमेरिकी नरमी के पीछे ये रही मजबूरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 October 2018, 12:14 IST
(file photo )

अमेरिका की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए भारत ने रूस के साथ बहुचर्चित एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील पर मुहर लगा दी है. एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील होने के बाद अमेरिका का रुख भारत को लेकर नरम पड़ गया है. अमेरिका ने कहा है कि उसकी तरफ से लगाए जाने वाले प्रतिबंध रूस को दंडित करने के लिए हैं. हालांकि इस डील को लेकर अमेरिका ने चीन पर हाल ही में प्रतिबंध लगाया था. जिसके बाद माना जा रहा था कि एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील होने पर वह भारत पर भी प्रतिबंध लगा देगा. लेकिन अमेरिका ने भारत को लेकर अपने रुख में नरमी दिखाई है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, भारत और रूस के बीच एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम पर हस्ताक्षर होने के बाद अमेरिकी दूतावास की तरफ से एक बयान जारी किया गया. जिसमें कहा गया अमेरिकी प्रतिबंधों का मकसद हमारे सहयोगी देशों की सैन्य क्षमताओं को नुकसान पहुंचाना कतई नहीं है. इससे प्रतीत होता है कि अमेरिका भारत को लेकर नरम है.

अमेरिका के भारत के प्रति नरम रुख को लेकर एक सवाल खड़ा हो रहा है कि जब उसने एस-400 डील को लेकर चीन पर प्रतिबंध लगाया था तो फिर भारत के प्रति उसकी इतनी नरमी क्यों?. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह चीन है. अमेरिका को चीन के बढ़ते प्रभाव का मुकाबला करने के लिए भारत की जरूरत है. वह भारत से नजदीकी रिश्ते कायम करना चाहता है. ऐसे में अमेरिका के लिए भारत के प्रति नरम रुख रखना मजबूरी है. वह इस डील को लेकर भारत से रिश्ते खराब नहीं करना चाहता है. हालांकि ये डील अमेरिका के लिए एक बड़ॉा झटका है. अमेरिका रूस के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा हथियार आपूर्तिकर्ता है.

वहीं भारत की बात करें तो उसके लिए एस-400 डील काफी अहम है. भारत को चीन और पाकिस्तान से संभावित खतरों को देखते हुए यह डील बहुत जरूरी थी. इसके साथ ही इस डील के जरिए भारत ने जता दिया है कि उसके लिए सभी साथी अहम है. वह किसी एक देश के कारण अपने किसी दूसरे सहयोगी देश से संबंध खराब नहीं कर सकता है.

ये भी पढ़ें- अमेरिका तरेरता रह गया आंख, भारत ने बिना डरे रूस के साथ कर लिया S-400 मिसाइल सौदा

First published: 6 October 2018, 12:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी