Home » इंडिया » Will Yeddyurappa be the CM of Karnataka? Yeddyurappa has won by over 35,000 votes
 

आखिरी पारी खले रहे येदियुरप्पा क्या कर्नाटक के सीएम बन पाएंगे ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2018, 14:38 IST

कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा ने 35,000 से अधिक मतों से बड़ी जीत की और अब वह कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं. 224 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी 104 सीटों पर कब्ज़ा कर सबसे बड़ी पार्टी बनी है. लेकिन येदियुरप्पा के लिए कर्नाटक में सीएम की कुर्सी पर कब्ज़ा करना भी इतना आसान नहीं होगा.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सैनिक रहे येदियुरप्पा के लिए राज्य में सबसे शक्तिशाली स्थिति पर कब्जा करना आसान नहीं हो होगा क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस और जेडी (एस) 112 अंकों के बहुमत के आंकड़े हासिल करने के लिए गठबंधन कर रहे हैं.

यह चुनाव संभवतः येदियुरप्पा का आखिरी चुनाव  है. इस चुनाव में उनके ऊपर लगे पिछले भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण खूब निशाना साधा गया, जबकि वह पार्टी के भीतर भी संघर्ष कर रहे थे. खनन घोटाले के आरोप में उन्हें सलाखों के पीछे भी जाना पड़ा हालांकि सीबीआई अदालत ने 2016 में कुछ आरोपों से उन्हें बरी कर दिया. तब उनकी उम्र 75 वर्ष थी, जो बीजेपी में राजनेताओं के सेवानिवृत्त होने की उम्र है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उनके सामने शर्त यह रखी थी कि यदि येदियुरप्पा कर्नाटक में बीजेपी के लिए पूर्ण बहुमत के लिए लिंगायत समुदाय को मना लेते हैं तो उन्हें बीजेपी के 75 साल के नियम को तोड़ने में कोई हर्ज नहीं है.

येदियुरप्पा ने खुद स्वीकार किया था कि वह शिकारीपुरा से अपनी आखिरी लड़ाई लड़ रहे हैं, जहां से उन्होंने चावल मिल में एक एकाउंटेंट के रूप में अपना करियर शुरू किया था. वह आपातकाल के दौरान आरएसएस और जनसंघ में रह चुके हैं. शिकारीपुरा, बेंगलुरू से लगभग 400 किमी दूर शिवमोग्गा, मलनाड जिले में है.

1975 में शिकारीपुरा में नगरपालिका चुनाव लड़ने के सात साल बाद, येदियुरप्पा ने चावल मिल मालिक की बेटी से शादी की और फिर वापस नहीं लौटे. नगर पालिका में खूब पैसा था जिसका उपयोग नहीं किया गया था. उन्होंने उस पैसे को बाहर निकाला, इसलिए पहली बार शिकारीपुरा ने ट्यूबलाइट्स और सब कुछ देखा लेकिन लगभग चार दशकों बाद, तस्वीर पूरी तरह से बदल गई. उन पर सार्वजनिक धन लूटने का आरोप लगा, जिस कारण उन्हें मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ा.

ये भी पढ़ें : कर्नाटक : BJP विधायक दल के नेता चुने गए येदियुरप्पा, आज राज्यपाल से मिलकर कल से सकते हैं शपथ

First published: 16 May 2018, 14:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी