Home » इंडिया » women should not be allowed to wear churidar inside the Sri Padmanabhaswamy temple: Kerala HC
 

पद्मनाभ मंदिर में चूड़ीदार पहनकर महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी जारी: केरल हाईकोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 December 2016, 7:29 IST

केरल हाईकोर्ट ने श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर में सलवार और चूड़ीदार पहन कर आई महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी को जारी रखने का आदेश दिया है. कोर्ट ने कहा कि मंदिर के रीति-रिवाजों को लेकर मंदिर के मुख्य तंत्री का लिया गया फैसला ही माना जाएगा. 

मंदिर में चूड़ीदार पहन कर महिलाओं के प्रवेश से संबंधित याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि मंदिर के कार्यकारी अधिकारी को मंदिर से जुड़ी परंपरा में बदलाव करने का कोई हक नहीं है.

इससे पहले मंदिर प्रबंधन ने मंदिर के अंदर सलवार कमीज या चूड़ीदार पहनने को धर्म की परंपरा के खिलाफ बताया था.

गौरतलब है कि मंदिर समिति ने 29 नवंबर  को महिला श्रद्धालुओं को पहनावे में छूट देते हुए उन्हें मंदिर में सलवार कमीज और चूड़ीदार पहन कर पूजा करने की इजाजत दे दी थी. मंदिर में पहले सलवार और चूड़ीदार पहन कर आई हुई महिला श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने से पहले ऊपर से धोती डाल कर जाना पड़ता था. स्थानीय भाषा में इस धोती को मुंडू कहा जाता है.

मंदिर में मुंडू ओढऩे की प्रथा को मंदिर समिति की ओर से समाप्त किये जाने का विभिन्न हिंदू संगठनों ने विरोध किया. ये ड्रेस कोड हाइकोर्ट के आदेश के बाद लागू किया गया था. हाइकोर्ट में एक महिला श्रद्धालु रिया राज ने याचिका दर्ज की थी उसके बाद मंदिर ने इस ड्रेस कोड को बदला था.

First published: 9 December 2016, 7:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी