Home » इंडिया » केजरीवाल को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर महिलाओं ने दिखाई चूड़ियां
 

केजरीवाल को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर महिलाओं ने दिखाई चूड़ियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(एएनआई)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर महिलाओं के द्वारा जबरदस्त विरोध हुआ है. केजरीवाल नई दिल्ली स्टेशन पर पंजाब जाने के लिए ट्रेन पकड़ने पहुंचे थे.

केजरीवाल जैसे ही रेलवे स्टेशन पहुंचे बीजेपी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने अरविंद केजरीवाल का विरोध किया और उन्हें चूड़ियां दिखाई. यह घटना सुबह करीब 7:10 बजे की है, जब केजरीवाल पंजाब जाने के लिए शताब्दी ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशन पहुंचे थे.

इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी ने इसे मुख्यमंत्री पर हमला करार दिया है. पार्टी की ओर से कहा गया है कि दिल्ली पुलिस की ओर से सुरक्षा व्यवस्था नहीं की गई थी, जिसके कारण यह घटना हुई.

आशुतोष की आज महिला आयोग में पेशी

बीजेपी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं की मांग थी कि मुख्यमंत्री केजरीवाल महिलाओं को प्रताड़ित करने वाले सभी नेताओं के खिलाफ खुलकर बोलें और आप नेता आशुतोष को पार्टी से बाहर करें.

यह मामला तब विवादों में आया जब आप के पूर्व मंत्री संदीप कुमार पर एक महिला के यौन शोषण का आरोप लगा. इन्हीं आरोपों के बाद आप नेता आशुतोष ने ब्लॉग लिखकर संदीप का कथित तौर पर बचाव किया था, जिस पर महिला आयोग ने संज्ञान लिया था. इसी संदर्भ में आज आशुतोष को महिला आयोग के सामने पेश भी होना है.

पुलिस ने महिलाओं को रोका

सूचना के मुताबिक केजरीवाल के साथ स्टेशन पर धक्का-मुक्की की कोशिश की गई. पुलिस वालों ने किसी तरह केजरीवाल को महिलाओं से बचाकर ट्रेन में बैठाया.

केजरीवाल के ट्रेन में चढ़ने के बाद भी महिलाएं केजरीवाल के पीछे-पीछे जाने लगीं थीं, जिसके बाद बोगी के गेट पर पुलिस वालों ने महिलाओं को अंदर घुसने से रोका.

इस घटना के पहले दिल्ली पुलिस ने बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पंजाब के उनके पांच दिवसीय दौरे के समय सुरक्षा मुहैया कराने में असमर्थता जाहिर करते हुए कहा, "उसका उस राज्य में अधिकार क्षेत्र नहीं है."

केजरीवाल की पंजाब यात्रा

पुलिस के सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल की इस यात्रा के दौरान पंजाब पुलिस से उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने का आग्रह किया गया है.

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "हमने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने से इनकार नहीं किया है. वह पांच दिन के लिए दिल्ली से पंजाब जा रहे हैं.

सुरक्षा नियमों के अनुसार यदि वह कार या ट्रेन से यात्रा करते हैं, तो हमें उन्हें उस राज्य में पहले गंतव्य क्षेत्र पर छोडना है और इसके बाद राज्य की पुलिस जिम्मेदारी निभाती है."

First published: 8 September 2016, 12:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी