Home » इंडिया » Catch Hindi: Yagendra Yadav on one year of aam adami party government in Delhi
 

केजरीवाल सरकार के एक साल पर योगेंद्र यादव से 10 सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 February 2016, 10:10 IST
QUICK PILL
योगेंद्र यादव सेफोलॉजिस्ट और एकैडमिशियन हैं. वो दिल्ली स्थित रिसर्च \r\nसंस्थान सीएसडीएस के सीनियर फेलो रह चुके हैं. आम आदमी पार्टी के संस्थापकों में \r\nशामिल यादव पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के भी सदस्य रहे. उन्हें 2015 \r\nमें पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में पार्टी से निकाल दिया गया. यादव \r\nने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा था कि उन्हें अरविंद केजरीवाल के \r\nतानाशाही रवैये के खिलाफ आवाज उठाने के लिए पार्टी से निकाला गया.आम\r\n आदमी पार्टी से निकाले जाने के बाद उन्होंने प्रशांत भूषण, आनंद कुमार और \r\nअजित झा के साथ मिलकर स्वराज अभियान नामक संगठन की स्थापना की.
दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के एक साल पूरे होने के अवसर पर कैच न्यूज ने योगेंद्र यादव से विशेष बातचीत की. देखे वीडियो इंटरव्यू के अंशः

1- क्या आपको लगता है कि आम आदमी पार्टी ने अपना लोकपाल का वादा निभाया?


2- अपनी स्थापना के साढ़े चार साल बाद क्या आम आदमी पार्टी अपने मूल मकसद से भटक गई है?



3- आम आदमी पार्टी सरकार किन क्षेत्रों में उम्मीद के अनुरूप प्रदर्शन करने में विफल रही है?


4- किन क्षेत्रों में आम आदमी पार्टी का प्रदर्शन पूरी तरह नाकाम रहा है?


5- आपको क्या लगता है कि एक साल बाद आम आदमी पार्टी की सरकार किस दिशा में जा रही है?


6- आम आदमी पार्टी की सरकार ने चुनाव से पहले जो वादे किए थे उनके आधार पर सरकार के एक साल पूरे होने पर आपका क्या मूल्यांकन है?


7- इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन से अलग होकर एक राजनीतिक पार्टी बनाने के फैसले को आज आप किस तरह देखते हैं?


8- क्या अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री बनने की हड़बड़ी में हैं?


9- क्या मोदी सरकार और केजरीवाल सरकार के बीच तुलना करना उचित है?


10- आम आदमी पार्टी की व्यक्ति-केंद्रित राजनीति को आप कितना जायज मानते हैं?

First published: 14 February 2016, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी