Home » इंडिया » Yashwant Sinha again attacks Arun Jaitley for not 'applying mind' to implement GST, demands his resignation
 

'जेटली ने जीएसटी बनाने में दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 November 2017, 18:09 IST

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने शुक्रवार को एक बार फिर से केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली पर निशना साधा.

सिन्हा ने नोटबंदी और जीएसटी को पूरी तरह 'असफल' बताते हुए कहा कि वित्तमंत्री अरुण जेटली ने जीएसटी लागू करने में अपने दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया. उन्होंने कहा, "नोटंबदी के बाद 20 लाख लोग बेरोजगार होकर सड़क पर आ गए. इसके बाद मोदी सरकार नोटबंदी को सफल बताने के लिए झूठ का सहारा ले रही है."

बिहार की राजधानी पटना में एक कार्यक्रम में भाग लेते हुए सिन्हा ने कहा, "नोटबंदी का उद्देश्य पूरा नहीं हुआ है और कोई कालाधन भी वापस नहीं आया है, बल्कि 99 फीसद करेंसी वापस आ गई है."

अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्तमंत्री रहे सिन्हा ने जीएसटी पर भी नरेंद्र मोदी सरकार को पूरी तरह असफल बताते हुए कहा कि अगर जीएसटी सही है, तो इसमें लगातार बदलाव की जरूरत क्यों पड़ रही है. उन्होंने कहा कि समाज जब आर्थिक दृष्टिकोण से मजबूत होगा, तभी लोगों को रोजगार मिल पाएगा.

सिन्हा ने अरुण जेटली पर तंज कसते हुए कहा कि वह अपनी गलती सुधारने के लिए रोज बदलाव कर रहे हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वित्तमंत्री बदलने की मांग भी की. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निजी क्षेत्र में आरक्षण की मांग को 'जुबानी जमा खर्ची' बताते हुए सिन्हा ने कहा कि ऐसी मांग करने से कुछ नहीं होने वाला है. इसके लिए मुख्यमंत्री विधानसभा से प्रस्ताव पास कराएं और केंद्र सरकार को भेजें.

First published: 10 November 2017, 18:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी