Home » इंडिया » Yechuri meets Rajnath, demands release of student leader
 

जेएनयू: नारेबाजी करने वालों में डी. राजा की बेटी, येचुरी मिले गृह मंत्री से

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2016, 14:03 IST

जेएनयू में अफजल गुरु से जुड़े कार्यक्रम में भारत विरोधी नारेबाजी का मामला गंभीर मुद्दा बन चुका है.

इस मामले में नारेबाजी करने वाले जिन 20 लोगों की लिस्ट बनी है. उसमें सीपीआई के वरिष्ठ नेता डी राजा की बेटी अपराजिता का भी नाम बताया जा रहा है.

इस बीच इस घटना के मामले में आज सीताराम येचुरी की अगुआई में विपक्षी नेताओं ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की.

गृहमंत्री के साथ हुई इस मुलाकात में सीपीएएम नेता सीताराम येचुरी के अलावा सीपीआई के डी राजा और जेडीयू नेता केसी त्यागी भी शामिल थे.

इस मुलाकात के बाद सीताराम येचुरी ने कहा कि, 'ये मामला बहुत ही गंभीर है. इस तरीके से पूरी यूनिवर्सिटी पर देशद्रोह का ठप्पा लगा कर कार्रवाई की जा रही है. हालात इमरजेंसी से भी बदतर होते जा रहे हैं. जेएनयू के स्टूडेंट देशद्रोही हैं, इस बात को कोई भी नहीं मानेगा. इस यूनिवर्सिटी से देश के बड़े अफसर, आईएएस, आईएफएस और कई नेता निकले हैं.'

सरकार आरएसएस की विचारधारा लागू करवाने के लिए एजुकेशन इंस्टीट्यूट पर हमला करा रही है. जेएनयू के मामले में हमसे गृहमंत्री ने कहा है कि सरकार किसी निर्दोष पर केस नहीं करेगी.

हमने छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया को रिलीज किए जाने की मांग की है. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पुलिस कमिश्नर को बुलाया है.

वीडियो में दिख रहे स्टूडेंट पर कार्रवाई कैसे होनी चाहिए, जबकि कैंपस में कैमरे ही नहीं हैं. इस वीडियो की सत्यता पर भी संदेह है. इसकी न तो जांच कराई गई और न तो इसकी सत्यता को परखा गया. जिन 20 लोगों की लिस्ट बनाई गई है, वे तो नारेबाजी में नजर भी नहीं आ रहा हैं. इस लिस्ट में डी राजा की बेटी का भी नाम डाला गया है. हम सभी मिलकर कह रहे हैं कि यह सरासर गलत है.

इस मामले पर डी राजा ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि,'मेरी बेटी और मुझ पर देशद्रोह का आरोप लगाने वाले क्या पागल हैं?

First published: 13 February 2016, 14:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी