Home » इंडिया » Yes Bank Crisis: ED stopped Rana Kapoor's daughter Roshni Kapoor for going to London at Mumbai Airport
 

Yes Bank Crisis: ED ने अब राणा कपूर के परिवार पर कसा शिकंजा, पत्नी और बेटी से पूछताछ

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 March 2020, 10:12 IST

Yes Bank Crisis: यस बैंक पर छाए आर्थिक संकट (Economical Crisis) के बाद बैंक के संस्थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) और उनके परिवार (Family) पर प्रवर्तन निदेशायल (ED) ने शिकंजा कसना शुरु कर दिया है. ईडी ने शनिवार (Saturday) देर रात राणा कपूर को गिरफ्तार (Arrest) करने के बाद रविवार रात (Sunday Night) देश छोड़ रही राणा कपूर की बेटी को मुंबई एयरपोर्ट (Mumbai Airport) पर रोक दिया. राणा कपूर की बेटी रोशनी कपूर (Roshni Kapoor) ब्रिटिश एयरवेज (British Airways) के विमान (Flight) से मुंबई एयरपोर्ट से लंदन (London) के लिए उड़ान भरने वाली थी.

तभी ईडी ने उन्हें एयरपोर्ट पर ही रोक दिया. रविवार देर रात ईडी के ऑफिस (ED Office) पहुंची राणा कपूर की पत्नी और बेटी से करीब दो घंटे तक पूछताछ की गई. हालांकि देर रात उन्हें छोड़ दिया गया. बता दें कि एस बैंक का कर्जा न चुकाने के मामले में कुछ कंपनियों की अहम भूमिका सामने आ रही है जिनका मालिकाना हर राणा कपूर के परिवार के पास ही है. जिसके चलते ईडी राणा कपूर के परिवार से पूछताछ कर रही है. वहीं, दूसरी ओर बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि राणा को ईडी ने निशाना बनाया है, जबकि वह जांच एजेंसी से पूछताछ में सहयोग भी कर रहे हैं.


इससे पहले ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और उनकी पत्नी बिंदू कपूर, बेटियों राखी कपूर टंडन, राधा कपूर और रोशनी कपूर के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है. जिसके तहत ये लोग देश छोड़कर बाहर नहीं जा सकते. बता दें कि ईडी ने शनिवार देर रात तक यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर से पूछताछ की थी. उसके बाद रविवार तड़के सुबह ही ईडी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. उनपर पांच हजार करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है. ईडी ने राणा कपूर से करीब 20 घंटे तक पूछताछ की थी. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का कहना है कि मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम के तहत राणा के खिलाफ यह कार्रवाई इसलिए की गई, क्योंकि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे.

गिरफ्तार करने के बाद ईडी ने राणा कपूर ने मुंबई की एक अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें 11 मार्च तक ईडी की हिरासत में भेज दिया गया. इस बीच, केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने भी गोपनीय तरीके से यस बैंक संकट के मामले में जांच की शुरुआत करते हुए दस्तावेज जुटाने शुरू कर दिए हैं. सूत्रों के मुताबिक, यस बैंक संकट के मामले में सीबीआई आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच करने जा रहा है. वह डीएचएफएल (DHFL) और यस बैंक के रिश्तों की भी पड़ताल कर रहा है.

कोरोना वायरस ने चीन के बाद इटली में मचाया कोहराम, दुनियाभर में 3,830 लोगों की मौत

कोरोना से पीड़ित मरीज के खून से दवा बना रही कंपनी

देश के इस राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या में हुआ इजाफा, एक दिन में सामने आए पांच मामले

First published: 9 March 2020, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी