Home » इंडिया » PM Modi can't scare me, says CM Arvind Kejriwal after FIR registered in water tanker scam case
 

वीडियो: टैंकर घोटाले में FIR दर्ज होने के बाद पीएम मोदी पर केजरी'वार'

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2016, 17:06 IST
(फाइल फोटो)

वॉटर टैंकर घोटाले में एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जबरदस्त हमला बोला. केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि चाहे जितने भी केस दर्ज कर लें, जांच कर लें, हमें डरा नहीं सकते.

केजरीवाल ने साथ ही पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें जिस तरह सीबीआई छापे में कुछ नहीं मिला एफआईआर में भी कुछ नहीं मिलेगा. 

'न डरूंगा, न झुकूंगा'

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, "मैं छापे और एफआईआर से नहीं डरता. आप सबको डरा सकते हैं, लेकिन मैं पीएम मोदी के सामने चट्टान की तरह खड़ा हूं, मैं न डरूंगा न झुकूंगा."

इस दौरान केजरीवाल ने कहा, "वाड्रा, सोनिया गांधी, राहुल गांधी के खिलाफ छापे नहीं मारते, उनके खिलाफ एफआईआर नहीं करते, आपको सिर्फ मैं ही नजर आता हूं. 

'मोदी की सीधी लड़ाई मुझसे'

वाड्रा पर सीबीआई छापा क्यों नहीं लगवाते. मोदी की सीधी लड़ाई मुझसे है. मैं राहुल गांधी नहीं हूं, मर जाऊंगा लेकिन बेईमानी बर्दाश्त नहीं  करूंगा.

केजरीवाल ने कहा, "रक्षा में एफडीआई लाकर देश को बेचना चाहते हैं, लेकिन मैं देश के लोगों के साथ खड़ा रहूंगा. मैं किसानों के लिए लड़ाई लड़ता रहूंगा."

'मेरे खिलाफ झूठी FIR'

केजरीवाल ने साथ ही कहा, "मेरे खिलाफ झूठी एफआईआर दर्ज कराई है. केवल मैं खड़ा हूं मोदी जी के कुकर्म के खिलाफ, इसलिए मोदी जी हमको तोड़ना चाहते हैं.

नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी आप जो भी कर लीजिए, मैं नहीं टूटने वाला हूं. रोहित वेमुला का केस होता रहेगा तो मैं उसके साथ खड़ा रहूंगा. व्यापम के शिवराज के खिलाफ आवाज उठाऊंगा. जमीन घोटाले में आनंदीबेन को बचाएंगे, तो मैं आवाज उठाउंगा."

केजरीवाल ने साथ ही कहा, "सोनिया गांधी को बचाओगे तो मैं आवाज उठाऊंगा. माल्या और ललित मोदी को बचाओगे, तो मैं आवाज उठाऊंगा. मैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और राबर्ट वाड्रा नहीं हूं कि डर जाऊंगा."

'जितनी CBI रेड करानी है करा लो'

केजरीवाल ने इस दौरान कहा, "जितनी सीबीआई की रेड करानी है उतनी करा लो, पर मैं डरने वाला नहीं हूं.

चुनाव से पहले दामाद जी दामाद जी चिल्लाते थे, पर सोनिया जी, रॉबर्ट जी और राहुल के खिलाफ एक रेड न कराई आपने, केवल मेरे खिलाफ रेड कराई. तो आप भी मानते हैं कि आपकी लड़ाई सीधी मेरे खिलाफ है."

400 करोड़ का टैंकर घोटाला

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. 400 करोड़ के वॉटर टैंकर घोटाले में एसीबी दोनों से पूछताछ कर सकती है.

जिस समय यह घोटाला हुआ, उसम समय शीला दीक्षित दिल्ली की मुख्यमंत्री और दिल्ली जल बोर्ड की अध्यक्ष थीं, इसलिए वह शक के दायरे में हैं. हाल ही में उपराज्यपाल नजीब जंग ने इस मामले में एसीबी जांच के आदेश दिए थे.

बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने शिकायत की है कि जब केजरीवाल सरकार को जुलाई 2015 में ही इस घोटाले का पता चल गया था, तो वह क्यों इससे जुड़ी रिपोर्ट 11 महीने तक दबाकर बैठी रही.

28 अगस्त 2015 को कपिल मिश्रा ने सीएम केजरीवाल को चिट्ठी लिखी (ट्विटर)

कपिल मिश्रा की केजरीवाल को चिट्ठी

  • 28 अगस्त 2015 को लिखी चिट्ठी
  • जल मंत्री बनने के बाद जांच के लिए कमेटी
  • टैंकर घोटाले की जांच के लिए कमेटी
  • दिल्ली जल बोर्ड अध्यक्ष, शीला दीक्षित ने नियम तोड़े
  • दिल्ली जल बोर्ड को 400 करोड़ का नुकसान          
  • मामले में जल्द से जल्द एफआईआर दर्ज हो
  • रिपोर्ट के आधार पर शामिल लोगों पर हो एफआईआर
  • ये बड़ा घोटाला, सरकार को अस्थिर करने की कोशिश संभव
  • मुझे मंत्री पद से हटाने की भी कोशिश संभव

First published: 21 June 2016, 17:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी