Home » इंटरनेशनल » 1,200 more babies due to be born in Denmark this Summer compared to last year
 

वीडियो: डेनमार्क में 'डू इट' अपील के बाद बेबी बूम

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 June 2016, 12:53 IST
(कैच न्यूज)

गुड कंट्री इंडेक्स में दूसरे स्थान पर आए डेनमार्क के लिए एक अच्छी खबर है. पिछले साल की तुलना में यहां जन्म दर में हल्की सी बढ़ोत्तरी हुई है. यहां पिछले साल की तुलना में इस साल गर्मी में 1200 बच्चे ज्यादा पैदा हुए हैं.

आपको बता दें कि पिछले साल डेनमार्क में शिशु जन्म दर गिरकर 1.7 पर पहुंच गई थी. 2012 में आई एक रिपोर्ट के अनुसार जन्म दर के हिसाब से डेनमार्क विश्व भर के 221 देशों में से 185वें स्थान पर है. डेनमार्क में बुजुर्गों की संख्या लगातार बढ़ रही है.

इसके बाद डेनमार्क की सरकार पिछले कुछ सालों से विभिन्न अभियानों के जरिये अपने नागरिकों से ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करने की अपील कर रही है.

'डू इट फॉर मॉम'

पिछले साल सितंबर में एक कंपनी ने इसी अभियान के तहत 'डू इट फॉर मॉम' के नाम से वीडियो जारी किया था. इस विज्ञापन में लोगों से छुट्टियों पर जाने और ज्यादा से ज्यादा सेक्स करने की अपील की गई थी.

विज्ञापन में बूढ़े होते माता-पिता से अपने बेटे-बहुओं को छुट्टियों पर भेजने की अपील की गई, जिससे उन्हें नाती-पोते मिल सकें. वहीं डेनमार्क के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता ने भी 'स्क्रू फॉर डेनमार्क' (डेनमार्क के लिए सेक्स करो) नामक एक प्रोग्राम चलाया था.

डू इट फॉर डेनमार्क

बढ़ते जन्म दर पर कोपेनहेगन की डिप्टी मेयर (स्वास्थ्य) नीना थॉमसन ने कहा, "आप शायद हमारे अभियान को बढ़ते जन्म दर का कारण नहीं बता सकते, लेेकिन निश्चित रूप से हमारे अभियानों का सकारात्मक प्रभाव पड़ा है."

इसके अलावा मार्च, 2014 में डेनमार्क की एक ट्रैवल कंपनी ने कहा था कि वह देश में जन्म दर बढ़ाने के लिए ज्यादा जोड़ियों को पेरिस जैसे रोमांटिक शहरों में छुट्टियों के लिए भेजेगी. ट्रैवल एजेंसी ने इस अभियान का नाम 'डू इट फॉर डेनमार्क' यानि 'डेनमार्क के लिए सेक्स करो' रखा था.

डेनमार्क में पहली बार माता-पिता बने लोगों की औसत उम्र 2014 में 29.1 साल थी. यह 1970 के दशक की तुलना में पांच साल ज्यादा है.
First published: 4 June 2016, 12:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी