Home » इंटरनेशनल » 15 killed in a terrorist attack on hotel in Somalia's capital Mogadishu
 

सोमालिया की राजधानी मोगादिशू के होटल में आतंकी हमला, 15 लोगों की मौत कई घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2020, 7:57 IST

Somalia terrorist attack: सोमालिया (Somalia) की राजधानी मोगादिशू (Mogadishu) के एक होटल में हुए आतंकी हमले (Terrorist Attack) में कम से कम 15 लोगों के मारे जाने की खबर है. इस आतंकी हमले में कई लोग घायल भी हुए हैं. सोमालिया के एक सुरक्षा अधिकारी ने न्यूज एजेंसी एएफपी को बताया कि आतंकियों ने होटल (Hotel) में जाकर कर्मचारियों को बंधक बना लिया. उसके बाद सुरक्षाबलों ने लोगों को बचाने के लिए पूरे होटल को घेर लिया. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हमला करने वालों को संदिग्ध अल शबाब (Al-Shabab) ग्रुप से जुड़ा बताया जा रहा है बता दें कि अल शबाब ग्रुप आतंकी संगठन अल कायदा (Al-Qaeda) का हिस्सा है जो ओसामा बिन लादेन का आतंकी संगठन था.

सोमालिया के एक सरकारी प्रवक्ता ने एएफपी को बताया कि रविवार को सोमालिया की राजधानी में समुद्र किनारे एक होटल में इस्लामी चरमपंथियों ने हमला कर दिया. उसके बाद करीब पांच घंटे तक चली गोलीबारी के बाद सुरक्षाबलों ने होटल को आतंकियों मुक्त करा दिया. एक पुलिस अधिकारी (Police Officer) के मुताबिक, आतंकियों ने शहर के एक प्रतिष्ठित होटल पर हमला किया जिसमें कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई. सोमालिया के सूचना मंत्रालय के प्रवक्ता इस्माइल मुख्तार के मुताबिक, सुरक्षा बलों ने बाद में सभी चार हमलावरों को मार गिराया और दर्जनों लोगों की जान बचा ली जो आतंकी हमले के वक्त होटल के अंदर फंस गए थे.


विदेशी मीडिया के मुताबिक, हमले की शुरुआत दोपहर में एक शक्तिशाली कार बम विस्फोट से हुई जिसमें होटल के सुरक्षा द्वार उड़ गया. उसके बाद बंदूकधारी होटल के अंदर घुस गए और लोगों को बंधक बना लिया. इस हमले में करीब 15 लोगों की मौत हो गई और करीब 28 लोग घायल हुए हैं. होटल में जब हमला हुआ उस वक्त ज्यादातर युवा और महिलाएं वहां भोजन कर रहे थे. हमले शुरू होने पर उस इलाके में एम्बुलेंस सायरन सुनाई दिया. सोमालिया के होमगार्ड इस्लामी चरमपंथी विद्रोहियों, अल-शबाब, जो अल-कायदा से संबद्ध हैं ने एक रेडियो संदेश में इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

पाकिस्तान में स्वतंत्रता दिवस पर वेबसाइट हैक कर लिखा- राम लला हम आएंगे, कराची में मंदिर बनाएंगे

बता दें कि सोमालिया में आए दिन आतंकी हमले होते रहते हैं लेकिन कोरोना काल में पिछले कुछ महीनों से ऐसे आतंकी हमले नहीं देखे गए. लेकिन रविवार को हुए हमले के बाद एक बार फिर से सोमालिया में खून-खराबे का सिलसिला शुरु हो गया. बता दें कि सोमालिया पिछले तीन दशक से चरमपंथियों के हमले की मार झेल रहा है. साल 1991 में सोमालिया के तत्कालीन राष्ट्रपति सियाद बर्रे के सैन्य शासन को उखाड़ फेंकने के बाद यहां अराजकता का माहौल हो गया.

रोहिंग्याओं को आतंकवाद की ट्रेनिंग दे रहा ISI, पाकिस्तान की गहरी साजिश का खुलासा

जिसके बाद सोमालिया में आतंकी संगठन/चरमपंथी संगठन अल-शबाब का उदय हुआ उसने देश के बड़े हिस्से और राजधानी मोगादिशू को अपने कब्जे में कर लिया. हालांकि साल 2011 में अल-शबाब को राजधानी से बाहर कर दिया गया, लेकिन इसके आतंकवादी नियमित हमलों को अंजाम देते हुए सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ते रहे. पिछले सप्ताह ही राजधानी मोगादिशू की केंद्रीय जेल में हुई गोलीबारी में अल-शबाब के चार आतंकी मारे गए थे. क्योंकि सुरक्षाबलों ने किसी तरह से आतंकियों के हथियार छीन लिए और उन्हें मार गिराया.

रोहिंग्याओं को आतंकवाद की ट्रेनिंग दे रहा ISI, पाकिस्तान की गहरी साजिश का खुलासा

First published: 17 August 2020, 7:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी