Home » इंटरनेशनल » 20,000 BEES grounded on US Air Force's F-22 Raptor at Virginia base
 

ये क्याः दुनिया के सबसे बेहतरीन यूएस फाइटर एफ-22 पर मधुमक्खियों ने बना लिया छत्ता

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 August 2016, 17:25 IST

दुनिया के सबसे बेहतरीन गुप्त लड़ाकू विमान यानी अमेरिकी वायु सेना के एफ-22 फाइटर को यूं तो राडार भी नहीं पकड़ पाते हैं. लेकिन मधुमक्खियों ने इसे अपना छत्ता लगाने के लिए जरूर ढूंढ़ लिया. जी हां, हैरानी में डाल देने वाली यह घटना अमेरिका के वर्जीनिया में घटी.

डेलीमेल में छपी खबर के मुताबिक 11  जून को वर्जीनिया में बने अमेरिकी वायु सेना के बेस में कुछ उड़ानों के बाद वहां मौजूद मेंटेनेंस क्रू ने देखा कि वहां खड़े एफ-22 के एग्जॉस्ट नोजल के पास काफी बड़े आकार का कुछ काला हिस्सा नजर आ रहा है. नजदीक जाकर देखने पर पता चला कि यह तो मधुमक्खियों का विशालकाय छत्ता था.

क्या होगा अगर विमान में मोबाइल को फ्लाइट मोड पर नहीं रखा

Master Sgt. Carlos Claudio/USAF

यह देखने के बाद क्रू मेंबर्स में काफी हैरानी फैल गई कि कैसे 150 मिलियन अमेरिकी डॉलर के विमान पर मधुमक्खियों ने छत्ता लगा लिया. बेस के मेंटेनेंस स्क्वैड्रन क्रू चीफ जेफ्री बैस्किन को जब यह पता चला तो उन्होंने मधुमक्खियों को भगाने में कोई जल्दबाजी नहीं दिखाई.

उन्होंने देखा कि यह मधुमक्खियां वहां किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं बल्कि अपना नया आशियाना बनाने के लिए जमा हुई थीं. इसलिए उन्होंने स्थिति को भांपते हुए किसी मधुमक्खी विशेषज्ञ को बुलाने का निर्णय लिया. इसके बाद उन्होंने अमेरिकी नेवी के सेवानिवृत्त अधिकारी और स्थानीय मधुमक्खी संरक्षक एंडी वेस्ट्रिच को बुलाया.

टेक ऑफ और लैंडिंग के दौरान क्यों खुली रखनी पड़ती है विमान की खिड़की

Master Sgt. Carlos Claudio/USAF

वेस्ट्रिच की मानें तो यह छत्ता उनके अब तक के देखे गए सबसे बड़े छत्तों में से एक था. इसका वजन आठ पाउंड (करीब 3.60 किलोग्राम) था, जिसका मतलब कि इसमें करीब 20 हजार मधुमक्खियां मौजूद थीं.

10 बातें जो विमान केेबिन क्रू नहीं बताते आपको

बताया जा रहा है कि विमान पर छत्ता लगाना कोई सामान्य घटना नहीं थी लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि यह मधुमक्खियां उसी बेस में मौजूद किसी और ज्यादा बड़े छत्ते से अलग होकर नया घर बनाने के इरादे से यहां पहुंची थीं. 

जानिए क्या है एफ-22 रैप्टर

  • मल्टीपर्पज फाइटर की कीमत 150 मिलियन अमेरिकी डॉलर (करीब रुपये) है.
  • अत्याधुनिक हथियारों (कैनन, मिसाइल्स) से लैस यह विमान एक बार में 1,850 मील की दूरी तय कर सकता है.
  • केवल एक पायलट के चलाने लायक यह विमान 50 हजार फीट से ऊपर उड़ता है. 
  • माक टू स्पीड वाला यह लड़ाकू 44.6 फीट चौड़ा, 62.1 फीट लंबा और 16.8 फीट ऊंचा है. 

First published: 13 August 2016, 17:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी