Home » इंटरनेशनल » Goa court acquitted the two accused in the 2008 British girl Scarlett Keeling rape-murder case
 

गोवा: 8 साल बाद भी ब्रिटिश लड़की की मां को नहीं मिला इंसाफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 September 2016, 15:37 IST
(एएफपी)

2008 में ब्रिटिश लड़की से रेप और मर्डर के मामले में गोवा की अदालत ने दोनों अभियुक्तों को बरी कर दिया है. 15 साल की ब्रिटिश लड़की स्कारलेट कीलिंग 2008 में गोवा के अंजुना समुद्र तट पर मृत पाई गई थी.

तफ्तीश में पता चला था कि बलात्कार के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी. वारदात वाले दिन उसके साथ 25 साल के टूर गाइड और दोस्त जूलियो लोबो भी मौजूद थे. वहीं उनके साथ गोवा घूमने आई मां और भाई-बहन यात्रा पर किसी दूसरी जगह निकले हुए थे.

स्कारलेट की मां फ़ियोना मैक्किओन ने गोवा की अदालत के फैसले पर गहरी निराशा जताई है. स्कारलेट की मां ने कहा, "कोर्ट के फैसले से मुझे गहरा धक्का लगा है. मैं पूरी तरह से टूट गई हूं."

18 फरवरी 2008 की घटना

आठ साल पहले स्कारलेट कीलिंग अपनी मां और चार भाई-बहनों के साथ नवंबर 2008 में छह महीनों के लिए गोवा घूमने आई थी. 18 फरवरी को उसका शव गोवा के अंजुना समुद्र तट पर अर्धनग्न हालत में मिला था. 

शुरुआती तफ्तीश में गोवा पुलिस ने कहा था कि स्कारलेट दुर्घटनावश समुद्र के पानी में डूब गई थी. वहीं स्कारलेट की मां ने इसे गलत बताते हुए घटना का सच सामने लाने के लिए मुहिम चलाई.

दूसरी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि स्कारलेट ने नशा किया था और रेप के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी. इसमें मौत की वजह समुद्र में डूबने को बताया गया.

इस मामले में दो लोगों पर हत्या का आरोप लगा. हालांकि उन्होंने आरोपों से इनकार किया. दोनों की उम्र अब 34 और 46 साल हो चुकी है.

इस मामले में मार्च 2010 में गोवा के चिल्ड्रेन कोर्ट में दोनों पर मुकदमा चला. हालांकि एक साल से कम वक्त में अभियोजन पक्ष के वकील एसआर रिवोनकर ने इस्तीफा दे दिया था. बाद में एक नए वकील को केस की पैरवी के लिए नियुक्त किया गया.

First published: 23 September 2016, 15:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी