Home » इंटरनेशनल » 51 foreign prisoners granted forgiveness in Myanmar and 13 convicts gets death sentence in iraq
 

म्यांमार में 51 विदेशी कैदियों को मिला क्षमादान, वहीं, इराक ने 13 कैदियों के साथ किया ये सलूक

न्यूज एजेंसी | Updated on: 17 April 2018, 10:27 IST

म्यांमार सरकार ने देश में सजा काट रहे 51 विदेशी कैदियों को क्षमा दान दिया, वहीं दूसरी तरफ इराक ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के मृत्युदंड की सजा को खत्म करने के आह्वान के बावजूद आतंकवाद के आरोपों में दोषी पाए गए 13 लोगों को मृत्युदंड की सजा दी है.

म्यांमार सरकार ने देश में सजा काट रहे 51 विदेशी कैदियों को क्षमा दान दिया है. राष्ट्रपति कार्यालय ने मंगलवार को कहा कि अन्य देशों से संबंध को देखते हुए और मानवता के आधार पर देश के नए कलैंडर वर्ष में अन्य देशों के 51 कैदियों को क्षमादान दिया गया है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, क्षमादान प्राप्त करने वाले कैदियों को उनके देश प्रत्यर्पित कर दिया गया है. म्यांमार के नए राष्ट्रपति यू.विन म्यिंत के 30 मार्च को पदभार संभालने के बाद यह पहला क्षमादान है.

ये भी पढ़ें-IDEO: पलक झपकते ही ऐसे हवा में उड़ गया पुल, देखने वाले रह गए दंग

इराक ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के मृत्युदंड की सजा को खत्म करने के आह्वान के बावजूद आतंकवाद के आरोपों में दोषी पाए गए 13 लोगों को मृत्युदंड की सजा दी है. इराक के न्याय मंत्रालय ने सोमवार को जारी बयान में कहा, "बम विस्फोट, सुरक्षाकर्मियों के कत्ल और अपहरण के 11 दोषियों को मृत्युदंड दिया गया." गौरतलब है कि इराक में 10 जून 2003 को मृत्युदंड की सजा पर रोक लगा दी गई थी लेकिन आठ अगस्त 2004 को इस सजा को फिर बहाल कर दिया गया.

ये भी पढ़ें-यहां की मस्जिदों में अब लाउडस्पीकर से नहीं बल्कि WhatsApp से दी जाएगी अज़ान

First published: 17 April 2018, 10:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी