Home » इंटरनेशनल » Pakistan: 5100 bank accounts of terror suspects including Jaish chief Masood Azhar freezed
 

पाकिस्तान: आतंकी मसूद अजहर समेत 5100 संदिग्ध आतंकियों के बैंक अकाउंट फ्रीज

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 October 2016, 9:47 IST
(फाइल फोटो)

पाकिस्तान में आतंकियों की फंडिंग पर लगाम कसने के लिए बड़े कदम के तहत 5100 बैंक खातों को फ्रीज किया गया है. खास बात यह है कि इनमें आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर का बैंक अकाउंट भी शामिल है.

आतंकी मसूद अजहर पर हाल ही में भारत में हुए उरी आतंकी हमले की साजिश रचने का आरोप है. इसके अलावा अजहर को भारतीय संसद पर आतंकी हमला और पठानकोट एयरबेस हमले का भी सूत्रधार माना जाता है.   

खातों में 40 करोड़ से ज्यादा रकम जमा

पाकिस्तान ने 5100 संदिग्ध आतंकियों के बैंक खातों को फ्रीज किया है. पाक मीडिया के मुताबिक इन खातों में 40 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम जमा थी. इस कदम के बाद अब ये सभी संदिग्ध अपने बैंक खातों से लेन-देन नहीं कर पाएंगे.

पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले के बाद से मसूद अजहर एहतियातन हिरासत में है. पाकिस्तान के अखबार द न्यूज ने अधिकारी के हवाले से बताया कि गृह मंत्रालय ने हजारों संदिग्धों की तीन अलग-अलग सूची भेजी है, जिसमें कुछ प्रतिबंधित संगठनों के सरगना भी शामिल हैं.

शीर्ष संदिग्धों की सूची में मसूद अजहर

स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है, "गृह मंत्रालय के अनुरोध के बाद हमने अल्ला बख्श के बेटे मसूद अजहर समेत सभी शीर्ष संदिग्ध आतंकवादियों के बैंक खाते से लेन-देन पर रोक लगा दी है."

पाकिस्तान के द न्यूज अखबार के मुताबिक 5100 में से तकरीबन 1200 ऐसे खातों पर एसबीपी ने रोक लगाई है, जिन्हें आतंकवाद निरोधक अधिनियम, 1997 के तहत ‘ए’ श्रेणी में रखा गया है. गृह मंत्रालय और एसबीपी के अधिकारियों के मुताबिक मसूद अजहर इन्हीं शीर्ष संदिग्धों की सूची में शामिल है. 

5500 नाम भेजे गए थे

द न्यूज अखबार का कहना है कि अजहर मसूद के नाम को चौथी अनुसूची की ‘ए’ श्रेणी में रखा गया है. बैंक के अफसरों के मुताबिक ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि सरकार ने पठानकोट एयरबेस पर आतंकवादी हमला होने के बाद से सुरक्षा एजेंसियों ने जैश प्रमुख को एहतियातन हिरासत में रखा है.

पाकिस्तान की नेशनल काउंटर टेररिज्म अथॉरिटी ने इस महीने की शुरुआत में तकरीबन 5500 नाम स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान को को भेजे थे. अथॉरिटी के नेशनल कोऑर्डिनेटर एहसान गनी ने पुष्टि करते हुए कहा है कि एसबीपी ने 5000 से ज्यादा संदिग्धों के बैंक खाते से लेन-देन पर रोक लगा दी है.

अजहर मसूद के मुद्दे पर भारत लगातार पाकिस्तान को कठघरे में खड़ा करता रहा है. यूएन के प्रतिबंधित आतंकियों की सूची में भारत ने उसका नाम शामिल करवाने के लिए प्रयास किया था, लेकिन चीन के दो बार अड़ंगा लगाने से ऐसा नहीं हो पाया था.

First published: 25 October 2016, 9:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी