Home » इंटरनेशनल » After seismic event detected near North Korea's nuclear test site, agencies predicted 5th nuclear test
 

उत्तर कोरिया में पांचवें परमाणु परीक्षण की आशंका, परीक्षण स्थल के पास भूकंप

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 September 2016, 10:31 IST
(सांकेतिक तस्वीर)

उत्तर कोरिया के परमाणु स्थल में शुक्रवार को 5.3 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. आशंका जताई जा रही है कि यह उत्तर कोरिया की तरफ से किया गया पांचवां परमाणु परीक्षण है. दक्षिण कोरिया ने भी इस घटना पर परमाणु परीक्षण की आशंका जाहिर की है. 

अमेरिका, यूरोप और चीन की भूकंप जांचने वाली एजेंसियों के अनुसार भूकंप सतही स्तर पर 00:30 जीएमटी पर आया था. दक्षिण कोरिया के सरकारी अधिकारियों ने परमाणु परीक्षण की संभावना व्यक्त की है. सोल ने इसके बाबत आपातकालीन राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाई है.

रायटर्स: उत्तर कोरिया ने मानी परीक्षण की बात

वहीं चीन के विशेषज्ञों का कहना है कि ये भूकंप का झटका नहीं बल्कि संदिग्ध विस्फोट था. जापान के सरकारी प्रवक्ता का कहना है कि इस बात की पूरी संभावना है कि उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण किया है. जापान ने एजेंसियों को घटना के बारे में ज्यादा जानकारी हासिल करने का काम भी दे दिया है.

समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक उत्तर कोरिया ने स्वीकार किया है कि उसने न्यूक्लियर वॉरहेड के छोटे संस्करण का परीक्षण किया है. उत्तर कोरिया की तरफ से कहा गया है कि वो अपना हथियार कार्यक्रम जारी रखेगा.

अमेरिका ने किम जोंग उन को किया ब्लैकलिस्टेड

दो महीने पहले ही अमेरिका ने सैटेलाइट तस्वीरों के जरिए नॉर्थ कोरिया के परमाणु परीक्षण स्थल पर बड़े पैमाने पर गतिविधि रिकॉर्ड की थी.

अमेरिका ने 6 जुलाई को उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन को मानवाधिकारों के हनन के लिए काली सूची में डाल दिया था. जिसके बाद से ही ये अटकलें लगाई जा रही हैं कि उत्तर कोरिया पांचवां परमाणु परीक्षण कर सकता है.

जनवरी में हुआ था चौथा परमाणु परीक्षण

इसी साल जनवरी में हुए चौथे परमाणु परीक्षण के बाद उत्तर कोरिया के खिलाफ आर्थिक और दूसरे प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया गया था. लेकिन अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते तनाव की वजह से उत्तर कोरिया के खिलाफ कोई साझा कदम उठाने में दिक्कत आ सकती है.

दक्षिण कोरिया की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी संभावित परमाणु परीक्षण के बाद आकस्मिक बैठक कर रही है. ये संभावित परमाणु परीक्षण 1948 में उत्तर कोरिया के गठन की सालगिरह के मौके पर हुआ है.

जापान के प्रधानमंत्री शिंज़ो अाबे ने कहा है कि अगर उत्तर कोरिया कोई परीक्षण करता है, तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

अमेरिका ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को जुलाई में ब्लैकलिस्टेड किया है.
First published: 9 September 2016, 10:31 IST
 
अगली कहानी