Home » इंटरनेशनल » After Indi, US may also put a ban on Tiktok and other Chinese apps
 

भारत के बाद अमेरिका भी लगा सकता है टिकटॉक सहित चाइनीज ऐप्स पर बैन, पोम्पियो न कही ये बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 July 2020, 13:44 IST

भारत में टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप्स को बैन करने के बाद अमेरिका भी इस दिशा में बढ़ सकता है. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने सोमवार को एक इंटरव्यू में कहा कि अमेरिका टिकटॉक सहित चीनी सोशल मीडिया ऐप्स पर निश्चित रूप से प्रतिबंध लगाने जा रहा है. फॉक्स न्यूज से पोम्पियो ने कहा कि अभी इस बारे में मंथन चल रहा है. पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि अमेरिका को चीन के संबंध में एक अलग रास्ता अपनाना होगा क्योंकि उनकी अर्थव्यवस्था को खोलने में मदद करने की पिछली नीति से यह विश्वास होता है कि इससे अधिक राजनीतिक स्वतंत्रता पर काम नहीं हुआ है.

इस बीच लोकप्रिय वीडियो स्निपेट-शेयरिंग ऐप TikTok ने कहा कि वह हालिया घटनाओं के कारण हांगकांग में काम करना बंद कर रहा है. चीन के बाइटडांस के स्वामित्व वाली टिकटॉक ने यह कदम हांगकांग सरकार के अनुरोध पर उठाया है. 29 जून को भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी, जिनमें TikTok और WeChat शामिल हैं. भारत की ओर से कहा गया कि ये ऐप्स उन गतिविधियों में लगे हुए हैं जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, सुरक्षा को खतरा पहुंचा सकते हैं. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध को 'डिजिटल स्ट्राइक' करार दिया था.


TikTok बैन होने के बाद चीनी कंपनी ByteDance के घाटे की रकम देखकर चौंक जायेंगे आप

एक रिपोर्ट के अनुसार हालही में टिकटॉक चलाने वाली चीनी कंपनी ByteDance ने दावा किया है कि भारत सरकार द्वारा 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध के बाद उन्हें 6 बिलियन डॉलर से अधिक के नुकसान की आशंका है. भारत सरकार का प्रतिबंध ऐसे समय में आया था जब भारत और चीन के बीच सीमा पर काफी तनाव है.

TikTok यूजर्स को मायूस होने की नहीं जरूरत, Instagram जल्द करने जा रहा है कुछ नया

TikTok के लिए यूजर्स के मामले में भारत सबसे बड़ा बाजार था, चीनी मीडिया की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि यह कंपनी के लिए एक बड़ा झटका था. इन 59 ऐप अब Google Play Store या Apple के ऐप स्टोर पर उपलब्ध नहीं हैं. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित करने के बाद सोशल मीडिया ऐप TikTok ने बीजिंग से दूरी बना ली है.

28 जून को भारत सरकार को लिखे गए पत्र में टिक्कॉक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केविन मेयर ने कहा कि चीनी सरकार ने कभी भी उपयोगकर्ता डेटा का अनुरोध नहीं किया है और न ही कंपनी ऐसा कुछ करेगी. TikTok जो चीन में उपलब्ध नहीं है, लेकिन इसका मालिकाना हक चीन की बाइटडांस के पास है.

क्या ये ऐप बन रहा है भारत में TikTok का विकल्प, कंपनी ने किया 1.2 करोड़ डाउनलोड का दावा

First published: 7 July 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी