Home » इंटरनेशनल » after president pm modi will visit soon african country
 

जुलाई में पांच अफ्रीकी देशों का दौरा करेंगे पीएम मोदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2016, 16:39 IST
(पीटीआई)

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अफ्रीका महाद्वीप के तीन देशों घाना, आइवरी कोस्ट और नामीबिया का दौरा करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अगले महीने पांच अफ्रीकी देशों का दौरा करेंगे.

घाना में भारतीय उच्चायुक्त के जीवा सागर ने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के स्वागत में आयोजित समारोह के दौरान इस बारे में संकेत दिए. स्वागत समारोह में राष्ट्रपति ने अफ्रीका के साथ भारतीयों की पुरानी मित्रता को याद करते हुए कहा कि समय के साथ यह रिश्ता प्रगाढ़ होता चला गया.

'हम आपके साथ खड़े हैं'

पिछले साल नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी की ओर से आयोजित भारत अफ्रीका फोरम शिखर बैठक के बाद हुए अपने इस दौरे का उल्लेख करते हुए प्रणब मुखर्जी ने कहा कि राष्ट्रपति के तौर पर अफ्रीका के तीन देशों का यह दौरा आकस्मिक नहीं है.

राष्ट्रपति ने कहा, "कुछ दिनों पहले उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने ट्यूनीशिया और मोरक्को का दौरा किया. मैं इन देशों का दौरा कर रहा हूं और इसके ठीक बाद प्रधानमंत्री भी चार-पांच अफ्रीकी देशों का दौरा यह संदेश देने के लिए करने जा रहे हैं कि ‘अफ्रीका, हम आपके के साथ खड़े हैं."

भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वह भारत सरकार के द्वारा चलाए जा रहे ‘डिजिटल इंडिया’, ‘स्टार्टअप इंडिया’, ‘स्टैंड अप इंडिया’, ‘स्वच्छ भारत मिशन’ और ‘स्मार्ट सिटी’ जैसे कार्यक्रमों से जुड़ें.

70 अरब डॉलर का कारोबार

राष्ट्रपति ने कहा कि अफ्रीका के साथ भारत का व्यापार 70 अरब डॉलर से अधिक है और निवेश भी करीब 35 अरब डॉलर है. प्रणब मुखर्जी ने घाना और दूसरे अफ्रीकी देशों के साथ भारत की मित्रता का जिक्र करते हुए कहा कि भारत ने पिछले कुछ साल में घाना को कई परियोजनाओं के लिए 40 करोड़ डॉलर का रियायती कर्ज प्रदान किया है.

भारत, अफ्रीका में चल रही एक्जिम बैंक रेल परियोजना के लिए भी धन मुहैया करा रहा है. भारत-घाना द्विपक्षीय व्यापार तीन अरब डॉलर तक पहुंच गया है और यहां भारतीय निवेश भी करीब एक अरब डॉलर का है.

राष्ट्रपति मुखर्जी ने घाना के राष्ट्रपति जॉन ड्रमानी महामा के साथ बातचीत में कहा कि दोनों देशों ने द्विपक्षीय व्यापार को साल 2020 तक पांच अरब डॉलर तक ले जाने पर सहमति जताई है.

उन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था में अफ्रीकी मूल के लोगों की भूमिका की जमकर सराहना की. राष्ट्रपति ने कहा कि आप भारत की बढ़ती आर्थिक ताकत में चौतरफा इजाफा करने वाले हो गए हैं. मैं आपकी प्रतिबद्धता के लिए आपका धन्यवाद करता हूं.

First published: 15 June 2016, 16:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी