Home » इंटरनेशनल » Alleged Indian spy Kulbhushan Jadhav given death sentence, reports Pak Media quoting ISPR
 

बलोचिस्तान में जासूसी के आरोपी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने सुनाई मौत की सज़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2017, 16:09 IST

भारतीय नेवी के पूर्व अफसर कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने मौत की सज़ा सुनाई है. पाकिस्तानी मीडिया ने पाक के आईएसपीआर के हवाले से ये खबर दी है. वहीं पाकिस्तान के इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से भी कुलभूषण जाधव को सज़ा-ए-मौत की पुष्टि की गई है. 

3 मार्च 2016 को हुई बलोचिस्तान से गिरफ्तारी

मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्विटर पर कुलभूषण जाधव को मौत की सजा के बारे में जानकारी देते हुए प्रेस रिलीज जारी की है. पाकिस्तान के सैन्य मुख्यालय रावलपिंडी से जारी इस प्रेस रिलीज में कहा गया है, "भारतीय रॉ एजेंट/नेवल ऑफिसर 41558Z कमांडर कुलभूषण सुधीर जाधव उर्फ हुसैन मुबारक पटेल को 3 मार्च, 2016 को बलोचिस्‍तान के मश्‍केल क्षेत्र से काउंटर इंटेलिजेंस ऑपरेशन के जरिए गिरफ्तार किया गया था. उसे पाकिस्तान में जासूसी करने और गड़बड़ी फैलाने वाली गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में पकड़ा गया था." 

 

फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल के जरिए ट्रायल

आईएसपीआर ने कहा है, "जासूस को पाकिस्‍तान की सैन्‍य अदालत फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल (एफजीसीएम) के जरिए ट्रायल किया गया और पाकिस्तान आर्मी एक्ट के तहत मौत की सजा सुनाई गई है. आज चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ (सीओएएस) जनरल कमर जावेद बाजवा ने एफजीसीएम से सजा-ए-मौत दिए जाने की पुष्टि की है." 

कुलभूषण जाधव पर और कराची तथा बलोचिस्‍तान में अशांति फैलाने का आरोप है. आईएसपीआर ने कहा है, "रॉ एजेंट कमांडर कुलभूषण सुधीर जाधव का एफजीसीएम ने सेक्शन 59 और पाकिस्तान आर्मी एक्ट (पीएए) 1952 के सेक्शन तीन और ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट 1923 के तहत ट्रायल चलाया गया. एफजीसीएम ने कुलभूषण जाधव को सभी आरोपों के तहत दोषी करार दिया है."

फाइल फोटो

पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेड़ने का आरोप

आईएसपीआर के बयान में कहा गया है, "उन्होंने एक मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने ये स्वीकार किया है कि रॉ की योजना के तहत जासूसी और गड़बड़ी की गतिविधियों के साथ ही पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेड़ते हुए उसे अस्थिर करने की कोशिश की थी. बलोचिस्तान और कराची में कानून व्यवस्था और शांति को बरकरार रखने वाली एजेंसियों के रास्ते में जाधव ने रोड़ा अटकाया."

पाकिस्तान हमेशा ये कहता रहा है कि कुलभूषण जाधव भारत की खुफिया एजेंसी रॉ के एजेंट हैं. हालांकि भारत पाकिस्तान के आरोपों को नकारता आया है. भारत ने कुलभूषण जाधव को इंडियन नेवी का रिटायर्ड ऑफिसर माना है. इससे पहले पाकिस्तानी जांच एजेंसियों ने कुलभूषण जाधव का एक 6 मिनट का वीडियो भी जारी किया था.

फाइल फोटो

First published: 10 April 2017, 15:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी