Home » इंटरनेशनल » America can deny give visa to pakistan citizens
 

ट्रंप की धमकी- पाकिस्तानी नागरिकों को अमेरिका में घुसने पर लगा सकते हैं रोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2019, 12:11 IST

पाकिस्तान ने अमेरिका से प्रत्यर्पित किए गए नागरिक और वीजा अवधि समाप्त होने के बाद भी अमेरिका में रह रहे लोगों को वापस लेने से इनकार कर दिया है. पाकिस्तान की इस हरकत को देखते हुए अमेरिका ने उस पर प्रतिबंध लगा दिए हैं.

इस मामले को लेकर पाकिस्तान ने ट्रंप को कड़ी चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान ऐसा करेगा तो पाकिस्तानियों के वीजा पर अमेरिका रोक लगा सकता है. इस रोक की शुरुआत पाकिस्तान के वरिष्ठ अधिकारियों से हो सकती है.

इस मामले में अमेरिका विदेश विभाग ने शुक्रवार को एक बयान जारी किया. इस बयान के मुताबिक, अभी पाकिस्तान में दूतावास संबंधित कामकाज में "कोई बदलाव नहीं" किए गए हैं. अगर संघीय रजिस्ट्रर अधिसूचना में अमेरिका पाकिस्तानियों के वीजा पर रोक लगा सकता है और इसकी सबसे पहले शुरुआत वरिष्ठ नागरिकों पर लगा सकता है.

 इस प्रतिबंध के बाद पाकिस्तान उन दस देशों की सूची में शामिल हो जाएगा,  जिस पर अमेरिकी कानून के तहत प्रतिबंध लगा है. ये कानून उन देशो  पर लागू होता है, जो अपने प्रत्यर्पित किए गए और वीजा अवधि समाप्त होने वाले नागरिकों को वापस नहीं लेता. इस कानून के लागू होने के बाद इन देशों के नागरिकों को अमेरिकी वीजा नहीं देता. हालांकि पाकिस्तान अपने इस प्रतिंबध का असर कम करने की कोशिश कर रही है. 

video: Air India का सर्वर पूरी दुनिया में कई घंटों तक रहा डाउन. दिल्ली एयरपोर्ट पर हुआ हंगामा

संघीय रजिस्टर की अधिसूचना के बारे में विदेश विभाग के एक प्रवक्ता से पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "पाकिस्तान में दूतावास संबंधित कामकाज में कोई बदलाव नहीं होगा."

प्रवक्ता ने बताया, "यह अमेरिका और पाकिस्तानी सरकारों के बीच चल रहा द्विपक्षीय मुद्दा है और हम इस समय बारीकियों में नहीं जा रहे."

इस मामले के सामने आने के बाद अमेरिका में रह चुके पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी ने कहा कि अमेरिका के इस फैसले से पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. 

पूर्व राजजूत हक्कानी ने कहा, "इस कदम से पाकिस्तानियों के लिए मुश्किलें पैदा होंगी जो अमेरिका में यात्रा करना चाहते हैं और इससे बचा जा सकता था अगर पाकिस्तानी अधिकारियों ने प्रत्यर्पण की कानूनी अनिवार्यताओं के संबंध में अमेरिका के अनुरोधों को नजरअंदाज नहीं किया होता."

श्रीलंका में आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ाया, पूरे देश में लगाया गया कर्फ्यू

First published: 27 April 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी