Home » इंटरनेशनल » America Donald Trump Draft Policy to throw out for foreign Student who continue stay after finishing study
 

ट्रंप ने खड़ी की अमेरिका में पढ़ने वाले भारतीय छात्रों के सामने ये मुसीबत

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2018, 13:14 IST

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्र्ंप ने भारतीय छात्रों की मुस्किलें बढ़ा दी हैं. जिसका असर अमेरिका में पढ़ रहे हजारों भारतीय छात्रों पर पड़ेगा.राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जल्द ही वीजा नियमों में बदलाव करने जा रहे हैं. इस बदलाव से वीजा समाप्ति के बाद अमेरिका में रह रहे भारतीय छात्रों पर कड़ी कार्रवाई होना तय है. इसके लिए ट्रंप प्रशासन ने शुक्रवार रात एक नई ड्राफ्ट पॉलिसी जारी की. यह पॉलिसी 9 अगस्त में लागू कर दी जाएगी. जिसका प्रभाव सबसे अधिक उन छात्रों पर पड़ेगा जो पढ़ाई पूरी करने के बाद अमेरिका में रहकर नौकरी की तलाश करते हैं.

बता दें कि नई ड्राफ्ट पॉलिसी में गैर-कानूनी मौजूदगी की अवधि की गणना पद्धति में बदलाव किया गया है. जिसके तहत गैर कानूनी मौजूदगी की अवधि की गणना छात्रों के आव्रजन स्टेटस खत्म होने के दिन से की जाएगी. ऐसे छात्रों को अनाधिकृत रूप से रह रहे दिनों के हिसाब से गिना जाएगा. इसके तहत छात्र को अमेरिका में प्रवेश करने या स्थाई नागरिकता हासिल करने के प्रयासों को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया जाएगा.

अमेरिकी नई नीति को इस तरह समझा जा सकता है. मान लो कि एक एक छात्र को 60 दिन का समय अपने स्टेटस को बदलने के लिए दिया गया है. इस दौरान छात्र अपना स्टेटस बदल सकता है या अमेरिका छोड़कर वापस अपने देश जा सकता है. इस नीति से गैर-कानूनी अवधि के आधार छात्र को अमेरिका में प्रवेश करने या स्थायी रेजिडेंसी स्टेटस पाने में दक्कतें आ सकती हैं. वहीं 180 दिन तक इस तरह से जो छात्र जांच में पकड़े जाएंगे उनके अमेरिका में प्रवेश को 3 साल से लेकर 10 साल तक रोका जा सकता है.

ओपन डोर्स रिपोर्ट के इंटरनेशनल छात्र डाटा के मुताबिक, अमेरिका में भारतीय छात्रों की संख्या 2016-17 की अवधि में 12 प्रतिशत बढ़ी है. अमेरिका में अंतरराष्ट्रीय छात्रों की संख्या के मामले में भारत दूसरे पायदान पर हैं. अमेरिका में सबसे ज्यादा चीनी छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. पिछले साल30 सितंबर तक अमेरिका में 4.21 लाख भारतीय छात्रों को वीजा दिया गया है.

ये भी पढ़ें- Happy Mother's Day: मदर्स डे पर इस अभिनेता ने क्यों लिखा पिता के नाम भावुक पोस्ट

First published: 13 May 2018, 13:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी