Home » इंटरनेशनल » america: if pakistan not taking action on terrorist organization, relation will be affected
 

अमेरिका की पाक को चेतावनी- आतंकी संगठनों की मौजूदगी से खराब हो सकते हैं संबंध

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 June 2016, 14:33 IST

अमेरीकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान में आतंकी संगठनों की मौजूदगी से दोनों देशों के बीच रिश्तों पर बुरा असर पड़ सकता है.

पेंटागन का कहना है कि उनके खिलाफ कार्रवाई में पाकिस्तान की अक्षमता से अमेरिका और पाकिस्तान के बीच सुरक्षा सहयोग सहित सभी तरह के द्विपक्षीय संबंध प्रभावित हो सकते हैं. पेंटागन ने अमेरिकी कांग्रेस को अफगानिस्तान पर अपनी छमाही रिपोर्ट भेजी है.

पेंटागन ने भेजी छमाही रिपोर्ट

इस रिपोर्ट में कहा गया है, "अमेरिका लगातार पाकिस्तान के साथ उन कदमों के बारे में स्पष्ट रहा है, जो उसे सुरक्षा का माहौल सुधारने और आतंकियों एवं चरमपंथी समूहों को सुरक्षित ठिकाने न मिलने देने के लिए उठाने चाहिए."

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है, "इसकी वजह से सुरक्षा और अफगानिस्तान में स्थिरता पर पाकिस्तान के साथ अमेरिका की वार्ता तो प्रभावित होती ही है, इसके साथ सुरक्षा सहयोग जैसे अन्य गंभीर मुद्दों की चर्चा के दौरान अमेरिका-पाकिस्तान द्विपक्षीय संबंध पर भी असर पड़ सकता है." 

हक्कानी नेटवर्क पर कार्रवाई की पुष्टि नहीं

रिपोर्ट में बताया गया है कि अमेरिका के रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने पाकिस्तान द्वारा हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई की किसी भी तरह की पुष्टि नहीं की है.

यही कारण है कि पेंटागन ने 30 सितंबर को खत्म होने वाले मौजूदा वित्तीय वर्ष के लिए गठबंधन सहयोग कोष के तहत पाकिस्तान को दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की राशि रोक ली है.

First published: 18 June 2016, 14:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी