Home » इंटरनेशनल » america open his army for transgender
 

अमेरिका ने ट्रांसजेंडरों के लिए खोले सेना के दरवाजे

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2016, 13:49 IST
(एजेंसी)

अमेरिका ने एक ऐतिहासिक फैसला लेते हुए अपनी सेना के दरवाजे ट्रांसजेंडरों के लिए खोल दिए हैं. अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन ने इस फैसले के तहत सेना में ट्रांसजेंडरों की सेवा पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है.

इस मामले में रक्षामंत्री एश्टन कार्टर ने पेंटागन में कहा, "हमारी ओर से अमेरिकी सेना में ट्रांसजेंडर अमेरिकी नागरिकों की सेवा पर लगा प्रतिबंध हटाया जा रहा है."

कार्टर ने कहा, "यह नियम तत्काल प्रभाव से लागू हो रहे हैं. अब कोई भी अमेरिकी ट्रांसजेंडर सेना को अपनी सेवाएं दे सकता है और अब उन्हें केवल ट्रांसजेंडर होने की वजह से सेना से न तो हटाया जाएगा और न ही अलग किया जाएगा."

उन्होंने कहा, "अब योग्यता प्राप्त किसी भी व्यक्ति की लैंगिक पहचान उसके लिए सेना में सेवा या किसी प्रवेश कार्यक्रम के लिए बाधक नहीं होगी."

कार्टर ने कहा, "यह कदम उठाते हुए अब उन नीतियों को हटाया जा रहा है, जिनकी वजह से किसी ट्रांसजेंडर सदस्य के साथ सेवा की उसकी क्षमता के बजाय लैंगिक पहचान के आधार पर अलग बर्ताव किया जाता था.

अब इसमें आगे बढ़ते हुए यह पुष्टि की जाती है कि सभी सेवारत कर्मियों के समान ट्रांसजेंडर सेवा सदस्यों के लिए भी समान रूप से लागू होंगे."

इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता नैंसी पेलोसी ने बताया, "ट्रांसजेंडर अमेरिकी नागरिकों के वर्दी में सेवा देने पर लगा प्रतिबंध एक मौलिक निष्पक्षता का मुद्दा है."

पेलोसी ने कहा, "अब वर्दीधारी ट्रांसजेंडर लोग अन्याय नहीं झेलेंगे और उन्हें अपनी लैंगिक पहचान के कारण मजबूरन सेवा नहीं छोड़नी होगी."

वहीं दूसरी तरफ रिपब्लिकन पार्टी ने ओबामा सरकार के इस फैसले की कड़ी आलोचना करते हुए दावा किया कि ओबामा प्रशासन इस फैसले के तहत अपने ‘सामजिक एजेंडे’ को थोपने की कोशिश कर रहा है.

First published: 1 July 2016, 13:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी