Home » इंटरनेशनल » americi report: iran spreading global terrorism
 

अमेरिकी रिपोर्ट: आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है ईरान

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 June 2016, 17:28 IST
(एजेंसी)

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने विश्व में आतंकवाद को बढ़ावा देने में ईरान को सबसे ज्यादा जिम्मेदार ठहराया है. अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से वैश्विक आतंकवाद के प्रसार पर जारी सालाना रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान, लश्कर-ए तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी संगठनों के ख़िलाफ़ ठोस कार्रवाई नहीं कर रहा है. रिपोर्ट के अनुसार 2015 के दौरान दुनिया में आतंकवाद के मामलों में 13 फीसदी की कमी आई है, लेकिन इन आंकड़ों के बीच ख़ुद को इस्लामिक स्टेट कहने वाले संगठन ने इराक़ और सीरिया में अपनी बढ़त बना ली है.

अमेरिकी विदेश विभाग ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि दक्षिण एशिया में आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में उत्तरी वज़ीरिस्तान में पाकिस्तानी फ़ौज की कार्रवाई से अल क़ायदा कमज़ोर हुआ है, लेकिन अफ़गानिस्तान में कई हमलों को पाकिस्तान से अंजाम दिया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को संचालित करने वाली संस्था पेमरा ने लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े संगठन जमात-उद-दावा और फ़लह ए इंसानियत के मीडिया कवरेज पर रोक तो लगा दी है, लेकिन पाक सरकार ने उनके चंदा जुटाने की कार्रवाई पर कोई लगाम नहीं लगाई है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद पूरी तरह से सक्रिय हैं और कैंप चलाकर लोगों को आतंकी प्रशिक्षण देने का काम कर रहे हैं.

पाकिस्तान के अलावा रिपोर्ट में बांग्लादेश के बारे में कहा गया है कि वहां भी आतंकवाद के मामलों में तेज़ी आई है और इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन अल-क़ायदा, इस्लामिक स्टेट के द्वारा बांग्लादेश में विदेशियों, अल्पसंख्यकों और उदारवादी ब्लॉगरों की लगातार हत्याएं और हमले हो रहे हैं.

अमेरिकी रिपोर्ट में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा गया है कि ईरान ने परमाणु मामलों पर ज़रूर अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ समझौता किया, लेकिन उसने अब भी हिज़बुल्ला और दूसरे चरमपंथी संगठनों को आर्थिक मदद और प्रशिक्षण देना जारी रखा है.

First published: 3 June 2016, 17:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी