Home » इंटरनेशनल » Angry over PoK polls Locals burnt pakistani flag
 

चुनाव में धांधली के विरोध में पीओके में जलाए गए पाकिस्तानी झंडे, 'गो नवाज गो' के लगे नारे

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 July 2016, 12:08 IST
(एएनआई)

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में 21 जुलाई को संपन्न हुए चुनाव के बाद से ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का जमकर विरोध हो रहा है. पीओके में चुनावी धांधली को लेकर स्थानीय लोग सड़क पर उतर आए हैं और प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विरोध में 'गो नवाज गो' के नारे लगा रहे हैं.

पाकिस्तान ने 21 जुलाई को पीओके में चुनाव कराया था. इस चुनाव के बारे में स्थानीय लोगों का कहना है कि आईएसआई ने नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग के पक्ष में खुलकर धांधली की और इसी का नतीजा हुआ कि उसे 41 सीटों में से 32 पर जीत मिली.

चुनावी नतीजे आने के बाद से स्थानीय लोग सड़क पर उतर आए. शुक्रवार को नीलम घाटी में गुस्साए लोगों ने पाकिस्तानी झंडे जलाए. चुनाव से जुड़े पोस्टर्स पर भी लोगों ने कालिख पोत दी. 

चुनावी प्रक्रिया और नतीजों के विरोध में मुजफ्फराबाद, कोटली, चिनारी और मीरपुर में लोग भारी संख्या में सड़क पर निकल आए हैं. गुस्से में लोगों ने सड़क पर टायर भी जलाए.

पीओके में रहने वाले लोगों ने यह भी आरोप लगया कि नवाज शरीफ और जरदारी की पार्टी ने पिछले कुछ दिनों में वहां 14 लोगों का कत्ल कर दिया है.

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में हुए चुनाव को लोग फर्जी बता रहे हैं. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि इन्होंने चुनाव में धांधली को लेकर शिकायत भी की लेकिन किसी ने सुनी नहीं. चुनावी प्रक्रिया में धांधली का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने बताया है कि यह पहली बार नहीं है जब चुनाव के नाम कुछ भी निष्पक्ष तरीके से हुआ हो.

प्रशासन ने मीडिया पब्लिकेशन और प्रसारण को पूरी तरह से बैन कर दिया है. पीओके असेंबली हॉल और अन्य सरकारी इमरातों के पास भी प्रदर्शनकारी विरोध कर रहे हैं. इनका कहना है कि इन्हें मतदान करने से रोका गया.

गौरतलब है कि 21 जुलाई को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में संपन्न हुए चुनाव में नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग ने 41 में से 32 सीटों पर विजय प्राप्त की. चुनावी प्रक्रिया और नतीजों के विरोध में मुजफ्फराबाद, कोटली, चिनारी और मीरपुर में लोग भारी संख्या में सड़क पर निकल कर चुनाव के दौरान हुई हिंसा के विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

शुक्रवार को चुनाव के बाद पीओके में एक पब्लिक रैली में नवाज ने कहा, "हमें बस उस दिन का इंतजार है, जब कश्मीर पाकिस्तान बन जाएगा. हमें शहीदों को याद रखना है."

First published: 29 July 2016, 12:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी