Home » इंटरनेशनल » Ansbach blast: Attacker is a 27-year-old Syrian asylum seeker, say German authorities
 

जर्मनी: एक हफ्ते में तीसरा हमला, ब्लास्ट में सीारियाई युवक की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(एएफपी)

जर्मनी के नूरेमबर्ग के नज़दीक आंसबाख शहर में हुए धमाके में एक युवक की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए. यह घटना स्थानीय समयानुसार रात 10.30 बजे रविवार को इयूजेन के वेन्सट्यूब के बार में हुई. यह बावेरिया राज्य में एक सप्ताह के भीतर हुआ तीसरा हमला है. 

एक पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि विस्फोट में मारे गये व्यक्ति के पास एक बैग था, जिसमें विस्फोटक उपकरण लाया गया था. मृतक की पहचान 27 वर्षीय सीरियाई शरणार्थी के रुप में हुई है.

धमाके के तुरंत बाद पास में ही एक संगीत समारोह में मौजूद करीब 2500 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया. पुलिस ने शहर के बीच स्थित इलाके को घेर लिया है और आपातकालीन सेवाएं घटनास्थल पर मौजूद हैं. बम स्क्वॉड भी यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि विस्फोट किस कारण हुआ.

बवेरिया के गृह मंत्री जोआचिम हेरमन के प्रवक्ता ने बताया कि बार से बरामद विस्फोटक को जानबूझकर रखा गया था. यह कोई दुर्घटना नहीं थी. सशस्त्र बल घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और पुलिस अधिकारियों ने क्षेत्र को चारों ओर से घेर लिया.

डायचे वेले

धमाके में मारे गए शख्स पर शक

अधिकारियों के मुताबिक़ धमाके में मारे गए युवक ने ही बम लगाया था. उनके मुताबिक़ संदिग्ध हमलावर क़रीब दो साल पहले जर्मनी में दाखिल हुआ था और शरणार्थी दर्जे की मांग की थी, जिसे क़रीब एक साल पहले नकार दिया गया था.उन्होंने कहा कि सीरिया के हालात को देखते हुए उन्हें अस्थायी रूप से रहने की इजाजत दी गई थी और रहने के लिए आंसबाख में एक अपार्टमेंट दिया गया था.

बवेरिया के गृहमंत्री आख़िम हरमान ने कहा कि इस सीरियाई युवक को जब संगीत समारोह में जाने की इजाजत नहीं मिली, तो उसने अपने उपकरण में धमाका कर दिया.

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही जर्मनी के म्यूनिख शहर में ओलंपिया शॉपिंग मॉल में हुई फायरिंग में 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि 16 लोग घायल हुए थे. शॉपिंग मॉल में नौ लोगों को मौत के घाट उतारने वाले हमलावर ने बाद में स्वयं को भी गोली मार ली थी.

First published: 25 July 2016, 11:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी