Home » इंटरनेशनल » bangladesh: activist nazimuddin critical of radical islamists to death in dhaka
 

बांग्लादेश: इस्लामिक कट्टरपंथियों ने एक और उदारवादी की हत्या की

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2016, 15:13 IST

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में इस्लामिक कट्टरपंथ की आलोचना करने वाले 28 साल के नजीमुद्दीन समद की हत्या कर दी गई है.

हाल के दिनों में बांग्लादेश में धर्मनिरपेक्ष और उदारवादी विचारधारा वाले ब्लॉगरों और कार्यकर्ताओं पर हमलों की घटनाएं बढ़ी हैं.

नजीमुद्दीन समद जगन्नाथ यूनीवर्सिटी में लॉ के छात्र थे. बीती रात संदिग्ध इस्लामी कट्टरपंथियों ने ओल्ड ढाका के सुत्रापुर इलाके में उसकी निर्मम हत्या कर दी.

हत्या में शामिल तीन हमलावरों ने नजीमुद्दीन पर बहादुर शाह पार्क नामक स्थान के नजदीक उस समय हमला किया जब वह यूनीवर्सिटी में अपनी कक्षाएं पूरी करने के बाद एक अन्य छात्र के साथ गेंदारिया स्थित अपने घर की ओर जा रहा था.

पढ़ें: बांग्लादेश में इस्लामी चरमपंथियों ने हिंदू पुजारी की हत्या की

घटना के मामले में चश्मदीदों का कहना है कि समद की हत्या करते समय कट्टरपंथी हमलावर ‘अल्लाह-ओ-अकबर’ के नारे लगा रहे थे.

इस मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि नजीमुद्दीन के साथ जा रहा युवक घटना के बाद से लापता है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमलावरों ने नजीमुद्दीन पर पहले धारदार हथियारों से हमला किया और फिर बाद में गोली भी मारी.

नजीमुद्दीन सिलहट के बंगबंधु जातीय युवा परिषद की जिला इकाई के सदस्य थे.

पढ़ें: खालिदा जिया के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज हुआ

उनके मित्रों ने कहा कि नजीमुद्दीन फेसबुक पर धर्मनिरपेक्षता के लिए प्रचार करते थे और कट्टरपंथियों की कड़ी आलोचना करते थे.

जानकारी के मुताबिक हत्या से एक दिन पहले नजीमुद्दीन ने एक फेसबुक पोस्ट में देश की कानून व्यवस्था को लेकर चिंता जताई थी.

First published: 7 April 2016, 15:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी