Home » इंटरनेशनल » German prosecutors say man who was arrested after Berlin truck attack released
 

बर्लिन ट्रक अटैक: ISIS ने ली जिम्मेदारी, पकड़ा गया पाक नागरिक रिहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2016, 10:16 IST
(एएफपी)

कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकी संगठन आईएसआईएस ने जर्मनी की राजधानी बर्लिन के व्यस्त क्रिसमस बाज़ार में हुए ट्रक हमले की जिम्मेदारी ली है. इस हमले में 12 लोगों की मौत हो गई थी.

हमले के बाद ही अंदेश जताया जा रहा था कि यह आतंकी करतूत हो सकती है. क्रिसमस से ठीक पहले हुए इस हमले ने जर्मनी ही नहीं दुनिया को हिला दिया है. इस बीच बर्लिन के मशहूर कायसर विलहेम चर्च में मृतकों को श्रद्धांजलि देते हुए घंटियां बजाई गईं.

मर्केल की अप्रवासी नीति पर सवाल

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने भी दिवंगत लोगों को श्रद्धांजलि दी है. वहीं हमले के बाद से मर्केल की अप्रवासी नीति (इमिग्रेशन पॉलिसी) पर भी जर्मनी के लोग सवाल उठा रहे हैं. बर्लिन की संसद के सदस्य फ्रैंक सी हैंसल ने कहा, "इस हमले से सबक लेने की जरूरत है. हमने हमेशा कहा है कि बड़े पैमाने पर अवैध अप्रवास एक समस्या है और यह खतरनाक है क्योंकि हमें यह नहीं पता कि हमारे देश में कौन आ रहा है."

हैंसल ने आगे कहा, "यह खतरा एक बार फिर साबित हुआ है. सुरक्षा बलों ने सरकार को चेतावनी दी थी कि यह (अप्रवासियों को ढील देना) एक अच्छी चीज नहीं है. हमें देखना होगा कि एंजेला मर्केल की सरकार ने इस हमले से क्या सीखा है."

पाकिस्तानी मूल का संदिग्ध रिहा

इस बीच बर्लिन पुलिस को शक है कि ट्रक हमले के बाद गलत शख्स को पकड़ लिया गया. समाचार एजेंसी एपी के हवाले से खबर है कि सुरक्षा एजेंसियों ने ट्रक से पकड़े गए संदिग्ध को पर्याप्त सबूतों के अभाव में छोड़ दिया है.

पकड़ा गया शख्स पाकिस्तानी मूल का बताया जा रहा था. वहीं ट्रक से एक शव भी बरामद हुआ था, जिसे पोलैंड के शख्स का बताया जा रहा है. हमले में इस्तेमाल ट्रक का रजिस्ट्रेशन पड़ोसी देश पोलैंड का है. पोलैंड की मीडिया के मुताबिक ट्रक की चोरी सोमवार को होने की संभावना है.

बताया जा रहा है कि पकड़ा गया शख्स फरवरी में जर्मनी आया था और उसने शरण लेने के लिए आवेदन किया था.

नीस जैसा आतंकी हमला

क्रिसमस से चंद रोज पहले हुए इस हमले के बाद फ्रांस के शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इस साल जुलाई में नीस में हुए हमले की ज़िम्मेदारी भी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली थी.

14 जुलाई 2016 को फ्रांस के नीस में इसी तरह का आतंकी हमला सामने आया था, जिसमें 86 लोगों की मौत हो गई थी.

फ्रांस के नीस शहर में इसी साल 14 जुलाई को ट्रक हमले में 86 लोगों की मौत हो गई थी. (एएफपी)
First published: 21 December 2016, 10:16 IST
 
अगली कहानी