Home » इंटरनेशनल » Bezwada Wilson and TM Krishna win Ramon Magsaysay Award 2016
 

भारत के टीएम कृष्णा और बेजवाड़ा विल्सन को मिलेगा मैग्सेसे अवॉर्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2016, 13:24 IST
(यूट्यूब)

एशिया के प्रतिष्ठित रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड के लिए इस साल दो भारतीयों को चुना गया है. सामाजिक कार्यकर्ता बेजवाडा विल्सन और संगीतकार टीएम कृष्णा को साल 2016 का मैग्सेसे अवॉर्ड देने की घोषणा हुई है.

इन दो भारतीयों के अलावा फिलीपींस के कोंचिता कार्पियो-मोरालेस, इंडोनेशिया के डोंपेट डुआफा और लाओस के वियंतीएन रेस्क्यू और जापान के ओवरसीज कोऑपरेशन के वालंटियर को इस अवॉर्ड के लिए चुना गया है.

सभी पुरस्कार विजेताओं को फिलीपींस की राजधानी मनीला में 31 अगस्त को एक समारोह में रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा.

मैग्सेसे अवॉर्ड के लिए चुने गए बेजवाड़ा विल्सन कर्नाटक के एक दलित परिवार में पैदा हुए थे. विल्सन को 'मानव सम्मान' के क्षेत्र में अमूल्य योगदान के लिए यह पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई है. वहीं टी.एम कृष्णा को संस्कृति के क्षेत्र में योगदान के लिए यह सम्मान दिया जाएगा. चेन्नई में जन्मे कृष्णा कर्नाटक संगीत का एक जाना-माना नाम हैं.

पिछले साल भारत के संजीव चतुर्वेदी और दिल्ली स्थित एनजीओ गूंज के संस्थापक अंशु गुप्ता को रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड

रेमन मैग्सेसे अवॉर्ड की शुरुआत वर्ष 1957 में की गई थी. इसे एशिया के नोबेल पुरस्कार के नाम से भी जाना जाता है. यह पुरस्कार फिलीपींस के तीसरे राष्ट्रपति रेमन मैग्सेसे की याद में प्रत्येक वर्ष प्रदान किया जाता है. यह पुरस्कार प्रतिवर्ष मनीला में उनके जन्म दिन 31 अगस्त को दिया जाता है. पुरस्कार के तौर पर विजेताओं को 50000 डॉलर की राशि प्रदान की जाती है.

बेजवाडा विल्सन और टीएम कृष्णा सहित अब तक 55 भारतीयों को यह अवॉर्ड मिल चुका है. पहला अवॉर्ड 1958 में विनोवा भावे को दिया गया था. जिन भारतीय हस्तियों को यह अवॉर्ड मिला, उनमें मदर टेरेसा, सत्यजीत राय, अरविंद केजरीवाल, किरण बेदी, अरुणा राय जैसे लोग शामिल हैं. इससे पहले 2012 में भारतीय कुलांदेई फ्रांकिस को यह अवॉर्ड दिया गया था.

First published: 27 July 2016, 13:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी