Home » इंटरनेशनल » Bilawal bhutto celebrates Holi with Hindus in Umerkot
 

कोई अल्पसंख्यक पाकिस्तान का प्रमुख क्यों नहीं बन सकता?

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 March 2016, 17:56 IST

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा है कि अगर एक मुस्लिम भारत का राष्ट्रपति बन सकता है, तो कोई अल्पसंख्यक पाकिस्तान राज्य का प्रमुख क्यों नहीं बन सकता.

गुरुवार को पाकिस्तान के सिंध प्रांत के हिंदू बहुल इलाके उमरकोट में भुट्टो ने होली के मौके पर कहा, 'सिंध में उनकी पार्टी हिंदुओं का जबरन धर्म परिवर्तन करने वालों के खिलाफ जल्द ही एक विधेयक पारित करेगी, ताकि हिंदू संप्रदाय मजबूत हो सके.'

पढ़ें: पाकिस्तान से उठ रही है बदलाव की हवा

बिलावल ने कहा, 'पीपीपी पाकिस्तान को कायद-ए-आजम (जिन्ना) के पाकिस्तान में बदल रही है, जिन्होंने तमाम अल्पसंख्यकों की आजादी का हमेशा समर्थन किया.'

भुट्टो ने यह भी कहा कि पार्टी का घोषणापत्र सबको आजादी पर आधारित है. उनकी पार्टी अल्पसंख्यकों व गरीबों के अधिकारों के समर्थन में है.

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली में एक बिल पेश किया गया जिसमें सरकार से मांग की गई कि पाकिस्तान में होली, दिवाली और ईस्टर पर आम छुट्टी होनी चाहिए.

हालांकि अभी तक केंद्र सरकार ने छुट्टी का नोटीफीकेशन जारी नहीं किया है. सिंध प्रांत की सरकार ने इसमें पहल करते हुए इतिहास रच दिया है और आने वाली होली पर पूरे प्रांत में आम छुट्टी की घोषणा कर दी है. यह पहली बार हुआ है कि अल्पसंख्यकों के किसी धार्मिक उत्सव पर एक इस्लामी देश में आम छुट्टी का ऐलान हुआ है.

First published: 25 March 2016, 17:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी