Home » इंटरनेशनल » British hospitals hit by cyber attack of ransom virus
 

ब्रिटेन में साइबर हमले के बाद हेल्थ सर्विस बुरी तरह प्रभावित

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2017, 12:03 IST

आधी दुनिया में हुए बड़े साइबर हमले का सबसे ज्यादा असर ब्रिटेन पर पड़ा है. इस साइबर हमले के बाद इंग्लैंड की स्वास्थ सेवा बुरी तरह प्रभावित हुई है. पूरे ब्रिटेन में इसे लेकर अफरा-तफरी का माहौल है. 

इंग्लैंड में नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) से जुड़े कंप्यूटर्स को निशाना बनाया गया. इस साइबर अटैक से लंदन, ब्लैकबर्न और नॉटिंघम जैसे बड़े शहरों के अस्पताल और ट्रस्ट के कंप्यूटर्स हैक कर लिए गए हैं. जिन साइट्स पर यह साइबर अटैक हुआ है, उन्हें ओपन करने पर कंप्यूटर स्क्रीन पर 'उप्स आपकी फाइलें एनक्रिप्ट हो चुकी हैं' लिखा आ रहा है.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने इसे इंटरनेशनल अटैक बताया है.

कर्स का कहना है कि पैसे देने में जितना समय लगेगा फिरौती की रकम उतनी बढ़ेगी और ज्यादा टाइम होने पर सभी फाइल्स को डिलीट कर दिया जाएगा. इग्लैंड के कई अस्पतालों के इमरजेंसी वार्ड को बंद कर दिया गया है. हालांकि भारत इस साइबर हमले का शिकार नहीं हुआ है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि अगर कोई इमरजेंसी नहीं है तो फिलहाल मरीज अस्पताल न आएं. रैनसमवेयर वायरस के जरिए ये साइबर हमला किया गया है.

क्या है रैनसमवेयर?

रैनसमवेयर एक कंप्यूटर वायरस है. ये वायरस कंप्यूटर में मौजूद फ़ाइलों और वीडियो को इनक्रिप्ट कर देता है. अटैक करने के बाद पहले यह फाइल को बर्बाद करने की धमकी देता है और इसके बदले फिरौती की मांग की जाती है.

फिरौती की रकम नहीं देने पर ये आपके फाइल को बर्बाद कर देता है. इस वायरस की ख़ास बात ये है कि इसमें फिरौती चुकाने के लिए समयसीमा निर्धारित की जाती है और अगर समय पर पैसा नहीं चुकाया जाता है, तो फिरौती की रकम बढ़ जाती है.

First published: 13 May 2017, 12:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी