Home » इंटरनेशनल » China Again Blocks Move At UN On Jaish Chief Masood Azhar to list global terrorist, india reacts sharply
 

चीन ने भारत को UN में फिर दिया धोखा, आतंकी मसूद अजहर पर लगाया वीटो

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 November 2017, 12:25 IST

चीन ने संयुक्त राष्ट्र में भारत को एक बार फिर से करारा झटका दिया है. शुक्रवार  को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकवादी घोषित करने के प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र में बाधित (ब्लॉक) कर दिया.

यूएन में यह दूसरा मौका है, जब चीन ने इस प्रस्ताव पर वीटो किया है. इससे पहले उसने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अल-कायदा प्रतिबंध समिति के सामने पिछले साल मार्च में पहली बार भेजे गए भारतीय प्रस्ताव को खारिज (वीटो) कर दिया था.

चीनी विदेश मंत्रालय के अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि यूएनएससी समिति में आम सहमति ना होने की वजह से मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने का आवेदन खारिज हो गया. इस संबंध में फ्रांस और ब्रिटेन के समर्थन से अमेरिकी प्रस्ताव को भी चीन ने खारिज कर दिया था. पहले इसे जनवरी में बाधित किया गया और फिर इस पर अगस्त में तीन महीने की तकनीकी रोक लगा दी गई.  अब इस संबंध में नया प्रस्ताव लाना पड़ेगा.

चीन यूएनएससी के 15 सदस्यों के बीच आम सहमति नहीं बनने और अजहर के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं होने का हवाला देकर इसे बार-बार खारिज कर रहा है. अजहर जनवरी 2016 में भारत में पठानकोट के सैन्य शिविर पर हुए हमले का मुख्य साजिशकर्ता है. वह इससे पहले भी कई बार भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे चुका है. भारत ने कहा कि केवल चीन ही अजहर को ग्लोबल आतंकवादी घोषित करने के पक्ष में नहीं है.

गौरतलब है कि मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी की सूची में डालने को लेकर भारत और चीन बीच लगातार तनातनी बनी हुई है, चीन ने हालांकि ब्रिक्स सम्मेलन में एक साझा बयान में अजहर के संगठन जैश-ए-मोहम्मद का नाम लेने पर सहमति जताई थी.

First published: 3 November 2017, 12:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी