Home » इंटरनेशनल » China again trying to create hurdle in India's move on Masood Azhar
 

अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहा चीन, मसूद अज़हर को फिर बचाएगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2017, 15:25 IST

हमेशा की तरह इस बार भी चीन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने की कोशिश पर अड़ंगा लगा सकता है. एक सवाल के जवाब में चीन अब भी अपनी पुरानी राय पर क़ायम नज़र आ रहा है. यह साफ़ है कि आतंकी मसूद अज़हर के मामले में उसके रुख़ में कोई बदलाव नहीं आया है और भविष्य में वह भारतीय कोशिश को असफल करने की जुगत लगाता दिखेगा.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग से मीडिया ने सवाल किया था कि क्या मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने पर चीन के रुख में कोई बदलाव आएगा? इसपर शुआंग ने कहा, "हमने अपनी स्थिति के बारे में कई बार चर्चा की. हम मानते हैं कि निष्पक्षता और इंसाफ के सिद्धांत कायम रहने चाहिए. मगर अभी कुछ सदस्य मसूद अजहर के मुद्दे पर अभी सहमत नहीं हैं. फिर भी इस मामले से जुड़े पक्षों से तालमेल बैठाने पर हमारा ज़ोर रहेगा."

इसी साल फरवरी में अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र में अर्जी देकर मसूद अज़हर पर बैन लगाने की मांग की थी, मगर तब भी चीन ने अमेरिका के इस कदम पर कड़ा ऐतराज़ जताया था. चीन ने वीटो पावर का इस्तेमाल करते हुए मसूद अज़हर पर पाबंदी की मांग पर टेक्निकल होल्ड लगा दिया था.

First published: 21 June 2017, 15:25 IST
 
अगली कहानी