Home » इंटरनेशनल » china and pakistan will upgrade their jf 17 fighter aircraf
 

Pak और चीन अपनी युद्धक क्षमता को करना चाहते हैं मजबूत, JF-17 को कर रहा अपग्रेड

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 March 2019, 8:40 IST

JF-17 थंडर लड़ाकू विमान पाकिस्तान और चीन द्वारा निर्मित है. इस लड़ाकू विमान को पाकिस्तान औऱ चीन अपग्रेड करने की योजना बना रहा है. इस बात से साफ जाहिर है कि चीन और पाकिस्तान अपनी युद्धक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं.

पाक-चीन की इस योजना के बाद विशेषज्ञ इस बात का अंदाजा लगा रहे हैं कि JF-17 के अपग्रेड होने से पाकिस्तान अपने विरोधी देशों से अपनी रक्षा करने में सक्षम रहेगा.

JF-17 को लेकर पाकिस्तान मीडिया द्वारा दावा किया जा रहा है कि इस विमान का इस्तेमाल 27 फरवरी को भारत की नियंत्रण रेखा पर हमले के लिए इस्तेमाल किया गया था. वहीं, इंडियन वायुसेना द्वारा दावा किया गया था कि पाकिस्तान ने एलओसी पर F-16 का इस्तेमाल किया था, जिसे इंडियन एयरफोर्स ने मार गिराया था.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान और चीन द्वारा लड़ाई विमान JF-17 को अपग्रेड करने का लक्ष्य इनफोरमेटाइज वारफेयर (IW) को बढ़ाना है. बता दें कि आईडब्ल्यू एक ऐसा कॉन्सेप्ट है जिसके जरिए सूचना एवं प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल अपने विरोधियों पर हावी होने के लिए किया जाता है. आईडब्ल्यू का इस्तेमाल पाकिस्तानी सेना द्वारा हमेशा किया जाता है. बता दें कि JF-17 लड़ाकू विमान को पहले FC-1 के नाम से जाना जाता था.

मसूद अजहर आज हो सकता है अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित, अगर चीन नहीं बना अड़ंगा

First published: 13 March 2019, 8:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी