Home » इंटरनेशनल » आरकॉम के खिलाफ इन्सॉल्वेंसी केस वापस ले सकती है चीन की ये बड़ी कंपनी
 

अनिल अंबानी की कंपनी के खिलाफ केस वापस लेगी चीन की ये बड़ी कंपनी!

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 January 2018, 11:37 IST
anil ambani

बड़े कर्जे से जूझ रही उद्योगपति अनिल अम्बानी की कंपनी आरकॉम को इन्सॉल्वेंसी मामले में बड़ी राहत मिल सकती है. एक रिपोर्ट के अनुसार चाइना डेवलपमेंट बैंक (सीडबीडी) आरकॉम के खिलाफ दायर किया गया अपना इन्सॉल्वेंसी मामला वापस ले सकता है. गौरतलब है कि आरकॉम पर सीबीडी का 11460 करोड़ का कर्ज है. इस मामले में सीबीडी को आरकॉम की ओर से कुछ पेमेंट पहले ही दी जा चुकी है और नए समझौते से भी सीबीडी ने सहमति जाहिर की है.

अगर सीबीडी आरकॉम के खिलाफ इन्सॉल्वेंसी मामला वापस लेता है तो कंपनी पर एक मात्र स्वीडिश कंपनी एरिक्सन की लोन रिकवरी का मामला बाकी रह जाएगा. एरिक्सन का आरकॉम पर 1150 करोड़ का कर्ज है. जबकि अक्टूबर 2017  तक आरकॉम पर 35 हजार करोड़ का कर्ज था.

इससे पहले अनिल अंबानी अपना वायरलेस असेट्स बेचने का फैसला लिया था. अनिल अम्बानी ने स्पेक्ट्रम, मोबाइल टॉवर व ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क बड़े भाई मुकेश अम्बानी की टेलीकॉम जियो ने खरीदने का फैसला किया था.

मई 2016 में मोदी सरकार ने इनसॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कानून को संसद से पास कराया था। इसका उद्देश्य दिवालिया होने की कगार पर खड़ी कंपनियों से बैंकों, इन्वेस्टर्स का पैसा निकालना था। ऐसे में अनिल अंबानी की कंपनी डिफॉल्‍टर की कैटेगरी में आ गई. अहम बात यह भी है कि इनसॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कानून बनने के बाद यह पहला हाई प्रोफाइल मामला था.

First published: 5 January 2018, 11:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी