Home » इंटरनेशनल » China is developing military weapons in Pakistan through CPEC
 

पाकिस्तान की आर्थिक मदद के सहारे भारत को घेरने की तैयारी में हैं चीन !

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2018, 11:55 IST
(Google images )

पाकिस्तान इस समय अपनी कर्ज में डूबी आर्थिक हालत के लिए चीन का सहारा ले रहा है. हाल ही में चीन, पाकिस्तान की इस आर्थिक हालत से उबरने के लिए मदद करने को तैयार हुआ है. हालांकि पाकिस्तान के नए पीएम इमरान खान ने आर्थिक मदद के लिए अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर भी मदद की गुहार लगाई थी. उस समय अमेरिका ने पाकिस्तान को उसकी आतंकी गाडिविधियों के लिए संदिग्ध मानते हुए उसे दी जानी वाली राशि को रोकने का ऐलान किया था. अ

मेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने ये राशि रोकते हुए कहा था कि पाकिस्तान अमेरीका और उसके सहयोगी देशों के प्रति अपना रवैया बदलेगा. लेकिव अब पाकिस्तान चीन से आर्थिक मदद ले रहा है. गौरतलब है कि चीन के पाकिस्तान को मदद करने के ऐलान के बाद महज दो हफ़्तों के अंदर ही पकिस्तान की एयर फ़ोर्स और चीनी हथियारों के बीच एक करार हुआ है. इस करार में चीन के सैन्य जेट विमान भी शामिल हैं. चीन और पाकिस्तान की इस दोस्ती को लेकर हाल ही में पेंटागन से भी एक बयान जारी हुआ था. इसमें कहा गया था, ''चीन असल में अब जाकर अपने उस दशकों पुराने अजेंडे पर काम कर रहा है, जिसके तहत उसने पाकिस्तान के सैन्य इस्तेमाल की योजना बनाई थी.''

कर्ज से उबरने के लिए पाकिस्तान ले रहा 'गधों' का सहारा, चीन के लिए बढ़ा रहा है गधों की संख्या, ये है वजह

पाकिस्तान में चीन इस तरह से अपनी योजना को बेल्ट ऐंड रोड प्रॉजेक्ट के जरिए पूरा करने में लगा हुआ है. इस सैन्य करार का एक बड़ा हिस्सा पाकिस्तान में चीन-पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर के नाम पर विकसित किया जा रहा है. चीन 1 ट्रिलियन डॉलर की इस योजना में 70 देशों को शामिल करके इस प्रॉजेक्ट पर काम रहा है.

इस मामले में न्यू यॉर्क टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, ''पाकिस्तान में अपने प्रॉजेक्ट्स को लेकर चीन ने पहली बार स्पष्ट रूप से इस्लामाबाद के साथ सैन्य योजनाओं के लिए करार किया है. असल में चीन पाकिस्तान की भू-राजनैतिक स्थिति का इस्तेमाल करते हुए अपने मिलिट्री बेस को वहां मजबूत करना चाहता है.''

First published: 21 December 2018, 11:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी