Home » इंटरनेशनल » China restrictions on keeping Roza in the month of Ramadan in Xinjiang Province
 

मुसलमानों की धार्मिक पहचान खत्म कर रहा है चीन, इस प्रांत में लगाई रोजा रखने पर पाबंदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2019, 11:12 IST

अभी मुस्लिम धर्म का सबसे पाक महीना रमजान चल रहा है. दुनियाभर के मुसलमान इस महीने में रोजा रखते हैं. लेकिन चीन ने अपने यहां मुसलमानों के रोजा रखने पर रोक लगा दी है. ऐसा कर चीन यहां के मुसलमानों की पहचान को खत्म किया जा रहा है. दरअसल,चीन ने शिनजियांग प्रांत के मुसलमानों के रोजा रखने पर रोक लगा दी है.

यही नहीं यहां रहने वालों मुसलमानों के खिलाफ कड़े से कड़े प्रतिबंध भी लगाए जा रहे हैं. मुस्लिम बहुल शिनजियांग प्रांत में चीन की सरकारी ने सरकारी अधिकारियों, छात्रों और बच्‍चों के रोजा रखने पर प्रतिबंध लगा दिया है. चीन ने इस बारे में सरकारी वेबसाइट पर निर्देश जारी किया है.

कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के कैडर शिनजियांग प्रांत में इस प्रतिबंध को लागू करने की कोशिश कर रहे हैं. चीन का दावा है कि शिनजियांग ओइगर ऑटोनॉमस रीजन (एक्‍सयूएआर) में सामाजिक स्थिरता बरकरार रखने के लिए ऐसा कर रहे हैं. ह्यूमन राइट्स वाच की इसी हफ्ते जारी की गई रिपोर्ट में इस बारे में दावा किया गया है.

एचआरडब्‍लू की रिसर्चर माया बैंग के मुताबिक, शिनजियांग प्रांत में रहने वाले मुस्लिम अपने ही घर में कड़ी निगरानी में रहने को मजबूर हैं. यही नहीं उनके खाने-पीने और सोने के समय के बारे में सीपीसी को जानकारी दी जा रही है. वहीं संयुक्त राष्ट्र की निगरानी समूहों का कहना है कि चीन में उइगर मुससमानों को चौकसी और सुरक्षा अभियानों के बहाने निशाना बनाया गया है.

हजारों उइगर मुसलमानों को हिरासत में रखा गया है और उन्हें विचारधारा बदलने वाले केंद्रों में भेज दिया गया है. यही नहीं विदेशों से पढ़कर या काम करने के बाद शिनजियांग प्रांत में लौटने वाले सैकड़ों उइगर छात्रों को गायब कर दिया गया है.

Air India की इस गलती से करोड़पति बन गया नाइजीरिया का एक शख्स

First published: 9 May 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी