Home » इंटरनेशनल » China Starts trial of first Aircraft Carries in the sea which devloped in the country
 

चीन ने अपनी ताकत में किया इजाफा, विकसित किया ये पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2018, 14:17 IST

चीन लगातार अपनी ताकत बढ़ाता जा रहा है. जिससे दूसरे देशों पर अपनी ताकत आजमा सके. चीन ने रविवार को पूर्णरूप से देश में विकसित अपने पहले विमानवाहक पोत को परीक्षण के लिए समुद्र में छोड़ा है. इस बात की घोषणा चीन की सरकारी मीडिया ने राजधानी बीजिंग में की.

चीन से निकलने वाले समाचार पत्र चीन डेली ने कहा है कि, पूरी तरह से देश में विकसित विमानवाहक पोत को रविवार सुबह समुद्री परीक्षण के लिए छोड़ा गया.

चीन ने सबसे पहले 2012 में सोवियत संघ द्वारा विकसित विमानवाहक पोत लियोनिंग को लॉन्च किया था. उसके बाद अप्रैल 2017 में दूसरा विमानवाहक पोत लॉन्च किया था. हालांकि लियोनिंग का चीन ने इस्तेमाल करना शुरु कर दिया है, लेकिन इसका ज्यादातर इस्तेमाल चीन में बनने वाले नए वाहकपोत के शोध और नई योजनाओं के लिए किया जाता है.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन ने शंघाई में अपना तीसरा विमान वाहक पोत भी बना लिया है. बता दें कि चीन ने दक्षिणी चीन सागर के साथ-साथ हिंद महासागर विवाद को देखे हुए 2030 तक चार नए विमान वाहक पोत बनाने की योजना बनाई है.

वहीं कुछ रिपोर्ट्स में ये भी कहा गया है कि चीन एक परमाणु विमानवाहक पोत बनाने की योजना बना रहा है. चीन ने विमानवाहक पोत से संचालित होने वाला AJ-15 नाम का एक लड़ाकू विमान भी विकसित किया है.

ये भी पढ़ें- ट्रंप ने खड़ी की अमेरिका में पढ़ने वाले भारतीय छात्रों के सामने ये मुसीबत

First published: 13 May 2018, 14:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी