Home » इंटरनेशनल » China: Typhoon Meranti claims 7 lives, 9 missing
 

चीन: 1949 के बाद आए सबसे शक्तिशाली तूफान मेरांती से 7 की मौत, 9 लापता

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 September 2016, 16:54 IST
(एएनआई)

पूर्वी चीन के फुजियान प्रांत में आए घातक मेरांती तूफान से सात लोगों की मौत हो गई, जबकि नौ अन्य लापता हो गए. स्थानीय सरकार ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की. इससे पहले पहले मेरांती के कारण ताइवान में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि 51 अन्य घायल हो गए.

मेरांती को दक्षिणी फुजियान प्रांत में साल 1949 के बाद से आया सबसे शक्तिशाली तूफान समझा जा रहा है. 48 मीटर प्रति सेकंड की रफ्तार वाले इस तूफान से योंगचुन काउंटी में 871 वर्ष पुराना एक पुल ध्वस्त हो गया है. डोंगगुआन ब्रिज एक संरक्षित विरासत स्थल था और सोंग राजवंश के दौरान 1145 में इसका निर्माण किया गया था.

गौरतलब है कि 'मेरांती' तूफान ने ताईवान के दक्षिणी इलाकों में कहर मचाने के बाद चीन के फुजियान प्रांत के जियामेन शहर में प्रवेश किया था. साल के सबसे बड़े मेरांती तूफान ने गुरुवार को जियामेन में सुबह 3.05 बजे दस्तक दी, जिसके बाद तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई.

'मेरांती' के कारण तेज हवाएं और भारी बारिश से बिजली आपूर्ति ठप हो गई और जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है. फुजियान में मकानों के दरवाजे और खिड़कियों के शीशे टूट गए, जबकि पानी की सप्लाई पूरी तरह ठप हो गई. चीन और ताइवान के मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मेरांती एक बड़ा तूफान है और ऐसा भयंकर तूफान लंबे वक्त बाद आया है.

तूफान के मद्देनजर इलाके में रेल और हवाई सेवा को स्थगित कर दिया गया है. बुधवार से स्कूल और दफ्तर भी बंद हैं.

फुजियान में तूफान के कारण 3,31,000 लोगों को सुरक्षित जगह पर भेजना पड़ा, जबकि 1,600 घर नष्ट हो गए. तूफान के कारण 22,200 हेक्टेयर की खेती को भी नुकसान पहुंचा है.

इसके कारण 1.7 अरब युआन (24.9 करोड़ डॉलर) का सीधा आर्थिक नुकसान हुआ. फुजियान में एक समय 32 लाख से अधिक घरों में बत्ती गुल रही और 14 लाख 40 हजार घरों में पिछले 24 घंटे से बिजली नहीं है.

नागरिक मामलों के मंत्रालय और आपदा न्यूनीकरण के राष्ट्रीय आयोग ने अपनी राहत टीमों को नुकसान का आकलन एवं बचाव कार्य में मदद के लिए भेज दिया है. तूफान से ताइवान और दक्षिण-पूर्वी चीन सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

First published: 16 September 2016, 16:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी